--Advertisement--

एक रात में उजड़ गई पूरी दुनिया, हर कमरे में बसी बच्चों की यादों ने आंखों में भर दिए आंस

विद्याधर नगर अग्निकांड: घर की दीवारों से कालिख तो धुल जाएगी...यादों से धुआं नहीं छंटेगा

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 12:42 AM IST
रविवार को एक साथ निकली पांच लो रविवार को एक साथ निकली पांच लो

जयपुर. जिन कमरों में कभी पिता की डांट तो बेटे-बेटियों की मासूम हंसी गूंजती थी आज वहां सिर्फ राख का ढेर रह गया है। विद्याधरनगर के सेक्टर-9 में शनिवार की आग में खाक हुए वायर फैक्ट्री व्यवसायी संजीव गर्ग के मकान की रविवार को सफाई शुरू हुई तो हर किसी की आंखें भर आईं। दीवारों की कालिख तो शायद उतर जाए, मगर यादों में भर चुका धुआं छंटना मुश्किल है। हादसे के अगले दिन जले कमरों को देख संजीव गर्ग के आंसू नहीं थम रहे थे। हर कोना जाने कितनी यादों को समेटे हुए था...मगर हर याद बस एक दिन पहले उठी लपटों में झुलस कर रह जाती। बार-बार संजीव उस ड्राइंग रूम और दोनों कमरों को देख कर सुबक जाते हैं जहां वे आगरा जाते समय भरा-पूरा परिवार छोड़ गए थे। क्या पता था कि महज एक रात में ही सबकुछ खत्म हो जाएगा। बच्चों की लाशें देख मां का सुधबुध खो बैठी।

- कॉलोनीवालों ने संजीव गर्ग और उनकी पत्नी के रहने की व्यवस्था अभी सेक्टर-9 में ही एक फ्लैट की है। रविवार को मकान की सफाई शुरू हुई तो संजीव गर्ग भी वहां मौजूद थे। जले कमरों में घूमते हुए आंखें आंसुओं से भरी थी। सिर्फ दो दिन पहले इन्हीं कमरों में उनका परिवार आबाद था...मगर अब हर तरफ सिर्फ खामोशी पसरी थी।

मौत पर कंट्रोवर्सी : सीएफओ VS निगम आयुक्त

#CFO ने कहा-पहली सूचना 5:30 पर मिली...लेकिन निगम आयुक्त ने दिया सबूत 4:47 पर आई थी कॉल

- अग्निकांड में दमकलकर्मियों की लापरवाही और नाकामी तो सामने आई ही...रविवार को ये भी खुलासा हुआ है कि मुख्य अग्निशमन अधिकारी जलज घसिया ने जिम्मेदारी से बचने को कहा था कि सुबह 5:30 पर सूचना मिली थी और वे 5:40 पर मौके पर थे। घसिया को 17 सीसीए का नोटिस दिया जा चुका है।

- घटना के बाद मेयर अशोक लाहोटी और निगम आयुक्त रवि जैन ने फायर ब्रिगेड की मीटिंग ली तो मुख्य अग्निशमन अधिकारी जलज घसिया ने बताया कि घटना की सूचना उन्हें सुबह 5:30 पर मिली।

-निगम आयुक्त रवि जैन ने उन्हें फटकारते हुए कहा कि फायर स्टेशन के दस्तावेज और फायरमैन का मोबाइल रिकॉर्ड जब्त किया जा चुका है।

- जैन ने उन्हें किए गए कॉल का स्क्रीन शॉट दिखाते हुए कहा कि उन्हें 4:47 पर सूचना मिल चुकी थी।

पहली सूचना अनूप जाजोरिया ने रसोई में आग लगने की दी थी। इसके बाद साढ़े पांच बजे घर में आदमियों के फंसे होने की जानकारी दी गई। कर्मचारियों के बीच में संवाद की कमी रही है। सूचना मिलने के बाद मैं 5:40 पर मौके पर पहुंच गया था। तब तक आग पर काबू पा चुके थे।
- जलज घसिया, सीएफओ

सीएफओ जलज घसिया ने मीटिंग में घटना की सूचना खुद को साढ़े पांच बजे मिलना बताया है। फायर स्टेशन के दस्तावेजों में दर्ज रिकॉर्ड कुछ और कहते हैं। कुछ बात है जिसे छिपाया जा रहा है। मामले की जांच की जा रही है। सीएफओ की गलती पाई गई तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

- रवि जैन, निगम आयुक्त