--Advertisement--

दुल्हन से बड़ा कोई दहेज नहीं, दूल्हे ने यह कहकर 11 लाख लौटाए ; शगुन के 1 रुपए लिए

सगाई की रस्म के लिए दुल्हन पक्ष को दूल्हे ने टीका लेने से इनकार किया।

Dainik Bhaskar

Mar 13, 2018, 04:09 AM IST
सगाई दस्तूर के दौरान दुल्हन पक्ष की ओर से दिया गया 11 लाख रुपए का चेक लौटाते दूल्हा भवानी प्रताप सिंह। सगाई दस्तूर के दौरान दुल्हन पक्ष की ओर से दिया गया 11 लाख रुपए का चेक लौटाते दूल्हा भवानी प्रताप सिंह।

भीलवाड़ा(राजस्थान). राजपूत परिवार ने समाज के सामने एक मिशाल पैदा की है। इलाके की एक राजपूत फैमिली के लड़के की सगाई के मौके पर जब दुल्हन पक्ष पहुंचा तो उसने तिलक दस्तूर में समाज के लोगों के सामने दूल्हे को 11 लाख रुपए का चेक देना चाहा। इस पर दूल्हे ने ससुर का सम्मान करते हुए चेक लिया, लेकिन हाथ जोड़कर कहा कि आप हमें बेटी दे रहे हैं। इससे बड़ा कोई दहेज नहीं है। दूल्हे ने शगुन के तौर पर सिर्फ एक रुपया व नारियल रखा और 11 लाख रुपए का चेक लौटा दिया। लोगों ने की सराहना...

- शादी स्वर्गीय चावंड सिंह के बेटे भवानी प्रताप सिंह की सगाई का कार्यक्रम था। बाड़मेर जिले के ठिकाना असाड़ा से सुरेंद्र सिंह महेची अपनी बेटी भंवर कंवर की सगाई करने फाकोलिया पहुंचे थे।

- उन्होंने समाज के सामने टीके में मोटी रकम लेने की परंपरा पर अंकुश लगाने के लिए यह पहल की।

- यह देखकर वहां मौजूद राजपूत समाज के लोगों ने इस कदम की सराहना की।

- सगाई समारोह में सभी ने इस पहल को राजपूत एवं अन्य समाज के लिए प्रेरणादायी बताया।

पिता ने किया था रिश्ता, तभी तय हो गया था टीके में नहीं लेंगे रुपए

- रिश्ता पक्का होते समय ही पिता ने बेटे और मां को यह कहा था कि टीका दस्तूर में कोई राशि नहीं ली जाएगी। पिता की अंतिम ईच्छा पूरी करने के लिए बेटे ने यह पहल की।

दूल्हे ने इंदौर से होटल मैनेजमेंट में किया डिप्लोमा, दूल्हा-दुल्हन दोनों ग्रेजुएट

- दूल्हा भवानी प्रताप सिंह व दुल्हन भंवर कंवर दोनों ग्रेजुएट हैं। दूल्हे ने इंदौर से होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा किया है।

दूल्हे ने कहा-शादी में न गहने लेंगे ने नकद राशि
- अभी शादी की तारीख तय नहीं हुई है, लेकिन दूल्हा भवानी प्रताप सिंह सगाई दस्तूर कार्यक्रम में ही तय कर लिया कि शादी भी दहेज के बिना करेंगे।

- दुल्हन पक्ष से न गहने लिए जाएंगे न कोई नकद राशि लेंगे। दूल्हे द्वारा ऐसी पहल करने की समारोह में उपस्थित लोगों ने काफी सराहना की।

टीका लगाकर शगुन देते हुए। टीका लगाकर शगुन देते हुए।
X
सगाई दस्तूर के दौरान दुल्हन पक्ष की ओर से दिया गया 11 लाख रुपए का चेक लौटाते दूल्हा भवानी प्रताप सिंह।सगाई दस्तूर के दौरान दुल्हन पक्ष की ओर से दिया गया 11 लाख रुपए का चेक लौटाते दूल्हा भवानी प्रताप सिंह।
टीका लगाकर शगुन देते हुए।टीका लगाकर शगुन देते हुए।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..