--Advertisement--

REET के लिए पहली बार 17 से ज्यादा जिलों में इंटरनेट बंद, फिर भी नकल के मामले

शिक्षक बनने की सबसे बड़ी परीक्षा: 9.34 लाख अभ्यर्थी शामिल हुए, 10 लाख पंजीकृत थे

Danik Bhaskar | Feb 12, 2018, 04:53 AM IST

अजमेर. राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा-2017 (रीट) प्रदेशभर में रविवार को संपन्न हुई। परीक्षा समय के दौरान प्रदेश के 17 से ज्यादा जिलों में इंटरनेट बंद रखा गया। इसके बावजूद नकलची नहीं माने। अलवर में कान में डिवाइस लगाकर नकल करते एक युवक पकड़ा गया। जोधपुर, जैसलमेर, बहरोड़, बाड़मेर सहित कई जिलों में भी नकल के मामले सामने आए। कई केंद्रों पर अभ्यर्थी की जगह दूसरे युवक परीक्षा देते पकड़े गए। प्रश्नपत्र और आंसर-की लीक होने की बातें भी सामने आईं।

बोर्ड अध्यक्ष प्रो. बीएल चौधरी ने इसे महज अफवाह करार दिया। उन्होंने कहा कि इन सूचनाओं की जांच की गई तो इन्हें झूठा पाया गया। कुछ परीक्षा केंद्रों पर प्रश्न-पत्र में प्रश्न गायब होने और गड़बड़ियों की शिकायतें भी मिली। हनुमानगढ़ के नोहर में पेपर सोशल मीडिया पर वायरल होने की चर्चा रही। पुलिस तीन अभ्यर्थियों को पकड़कर पूछताछ कर रही है। बोर्ड अध्यक्ष के अनुसार फिलहाल बोर्ड के पास नकल से जुड़े अधिकृत आंकड़े नहीं पहुंचे हैं। सोमवार तक नकल से जुड़े मामलों के आंकड़े सामने आ सकेंगे।

नकल के लिए कान में लगाई डिवाइस, माइनर सर्जरी कर निकालनी पड़ी

अलवर के बहरोड़ में जालौर निवासी अभ्यर्थी रघुनाथ विश्नोई को ब्लूटूथ बग (हियरिंग डिवाइस) कान में लगाकर नकल करते हुए पकड़ा। उसने ब्लूटूथ इस तरह लगाया हुआ था कि उसके कान की डाॅक्टर से माइनर सर्जरी करानी पड़ी। अलवर जिले के ही मालाखेड़ा कस्बे में दुर्गा देवी सीनियर सेकंडरी स्कूल परीक्षा केंद्र पर बिहार के निवासी उत्सव तिवाड़ी (25) को करौली निवासी भवानी सिंह के स्थान पर परीक्षा देते हुए पकड़ा। जैसलमेर में रोशनराम की जगह महिपाल और जोधपुर में अभ्यर्थी मांगीलाल की जगह अन्य युवक को परीक्षा देते हुए पकड़ा। जोधपुर में दिनेश पुत्र जांवताराम की जगह हमनाम दिनेश पुत्र भंवराराम विश्नोई (19) परीक्षा देते पकड़ा गया। मोहनपुरा में मांगीलाल की जगह अजय कुमार परीक्षा देते पकड़ा गया।

60 फीसदी या ज्यादा अंक वाले ही होंगे पास

बोर्ड अब रीट के परिणाम जारी करेगा। इसमें 60% या अधिक अंक प्राप्त करने वालों को ही पात्रता का प्रमाण पत्र दिया जाएगा। अन्य शिक्षक बनने की दौड़ से बाहर हो जाएंगे। रिजल्ट आने के बाद प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया शुरू करेगा।

विभाग का दावा है कि तृतीय श्रेणी शिक्षकों के 35 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी। इस भर्ती के लिए रीट या पहले हो चुकी आरटेट में 60 फीसदी या अधिक अंक प्राप्त करने वाले ही ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे।

परीक्षा समय के दौरान कई जिलों में बंद रही इंटरनेट सेवा
भरतपुर संभाग के चार जिलों भरतपुर, धौलपुर, करौली व सवाईमाधोपुर के अलावा हनुमानगढ़ जिले में भी परीक्षा के दौरान इंटरनेट सेवा बंद रही। श्रीगंगानगर में भी पहली बार परीक्षा में नकल रोकने के लिए आठ घंटे तक इंटरनेट बंद रखा गया। नकल व अनुचित साधनों की रोकथाम के लिए सीसीटीवी कैमरों का सर्विलांस, वीडियोग्राफी भी हुई।

प्रश्नों के दो पेज गायब होने की शिकायत
बांसवाड़ा में राजकीय सीनियर सैकंडरी स्कूल निचला घंटाला में अभ्यर्थी प्रियंका जैन के प्रश्न पत्र में 130 के बाद से लेकर 150 प्रश्नों वाले दो पेज गायब मिले। संबंधित अधिकारियों ने कहा कि प्रश्न पत्र पहले चेक करना था।