--Advertisement--

राममंदिर बीजेपी के एजेंडे में, लेकिन सही समय का इंतजार: वीके सिंह

मानसरोवर में दी आईआईएस यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में बोले सिंह

Danik Bhaskar | Dec 10, 2017, 05:19 AM IST

जयपुर. विदेश राज्य मंत्री रिटा. जनरल वी.के. सिंह का कहना है कि राममंदिर बीजेपी के एजेंडे में है और सही समय आने पर ही इस दिशा में काम होगा। हर काम का एक वक्त होता है और बीजेपी सही समय का इंतजार कर रही है।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और चीन के प्रति देशवासियों को चिंतित होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि हमारी फौजें और सिस्टम पूरी तरह से सक्षम है। चीन बॉर्डर पर हमारी पेट्रोलिंग की कई बार बातें आती हैं, लेकिन कभी भी चीन की पेट्रोलिंग की बातें नहीं आती हैं। खैर देशवासियों को इस बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं है। उधर हालात ये पैदा हो चुके हैं कि पाकिस्तान को फैसला लेना है कि उसे आतंकी देश बनना है या तरक्की वाला।

उन्होंने कहा कि बदलाव और विकास के क्षेत्र में जनता का सहयोग बेहद जरुरी है। स्वच्छ भारत अभियान इसका एक उदाहरण है। वी.के.सिंह ने शनिवार को मानसरोवर में दी आईआईएस यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में आए हुए थे।

वीजा के नियम कठोर नहीं हुए

वी.के.सिंह ने कहा कि भारत के लिए कुछ देशों ने वीजा के नियम कठोर करने की बातें कही थीं। हालांकि अब तक ऐसा कुछ नहीं हुआ है और ऐसी संभावनाएं भी नहीं लग रही हैं। ऐसे में इस बारे में चिंतित होने की जरूरत नहीं है।

खाड़ी देशों में सिर्फ रजिस्टर्ड एजेंसियों के माध्यम से जाएं
प्रदेशमें बड़ी संख्या में लोग खाड़ी देशों में काम कर रहे है। इस पर वी.के. सिंह ने कहा कि विदेश भेजने के लिए एजेंसियों को रजिस्टर्ड कर रखा है। ऐसे में सिर्फ उन्हीं एजेंसियों के माध्यम से लोग आएं-जाएं जो रजिस्टर्ड है। अनधिकृत लोगों के माध्यम से खाड़ी देशों में जाएंगे तो सरकार को सूचना नहीं होगी और मदद मिलने में बहुत मुश्किल होगी। उधर खाड़ी देशों के लोग बंधुआ मजदूर बनाकर काम कराएंगे।

कालेगाउन का दौर खत्म होने में लगेगा समय
राज्यपालकल्याण सिंह ने काले गाउन की परम्परा को खत्म करने के लिए निजी विश्वविद्यालयों को निर्देश दे रखे है। आईआईएस विश्वविद्यालय में दीक्षांत समारोह में काला गाउन पहना गया। इस पर वी.के.सिंह ने कहा कि ये गुलामी की परम्परा है। विद्यार्थियों की मांग पर अब भी इसे ड्रेस कोड के रूप में रखा जाता है। बहरहाल ये परम्परा जाते से जाएगी। बदलाव में समय लगेगा।

एक बार पाकिस्तान क्या गया तिल का ताड़ बना दिया
वी.के.सिंह ने कहा कि पिछली बार जब पाकिस्तान गए थे तो तिल का ताड़ बना दिया था। उनके हर बयान को तोड़ मरोड़ के पेश किया गया, इसलिए अब वह पाकिस्तान जाने और बात करने से बचते हैं। पहले सबने मिलकर उनके मजे लिए और अब वह सबके मजे ले रहे हैं।