Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Jaipur Collection Agent Murder By Robbers

रुपयों भरा बैग छीनने के लिए रोका, पीटा और की छीना-झपटी; फिर गोली मारी

रुपयों भरा बैग नहीं छीन पाए तो डेयरी बूथ कलेक्शन एजेंट को गोली मारी, सोढ़ाला में दिनदहाड़े हत्या, लुटेरों का नहीं मिला सुर

Bhaskar News | Last Modified - Jan 09, 2018, 01:42 AM IST

  • रुपयों भरा बैग छीनने के लिए रोका, पीटा और की छीना-झपटी; फिर गोली मारी
    +4और स्लाइड देखें

    जयपुर.हथियारबंद तीन लुटेरों ने सोढाला के नंदपुरी द्वितीय स्थित सुजन विहार में सोमवार को डेयरी बूथ से कलेक्शन कर लौट रहे एजेंट की गोली मारकर हत्या कर दी। हालांकि, गोली लगने के बावजूद 52 वर्षीय कलेक्शन एजेंट ओमप्रकाश शर्मा ने लुटेरों का इरादा सफल नहीं होने दिया और सात लाख कैश से भरा बैग उनके हाथ नहीं लगने दिया। लुटेरों के वार से बुरी तरह घायल ओमप्रकाश को एसएमएस अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। पुलिस ने उसका शव पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया है। गोली की आवाज से घटनास्थल पर लोग एकत्र हो गए, लेकिन मोटरसाइकिल सवार लुटेरे भागने में सफल रहे।

    - पुलिस की नाकाबंदी के बावजूद अब तक लुटेरों का सुराग नहीं लग पाया है, पुलिस क्षेत्र के सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिंग भी खंगाल रही है।

    - उधर, मृतक के भाई शंभूदयाल का आरोप है कि अगर ट्रोमा सेंटर के चिकित्सक समय पर मेरे भाई ओमप्रकाश को संभाल लेते तो उसकी मौत नहीं होती। हॉस्पिटल प्रशासन उपचार करने के बजाए 1 घंटे तक खानापूर्ति ही करता रहा। डॉक्टर भी करीब आधा घंटे बाद आया।

    बदमाशों ने रैकी कर किया था हमला
    - पुलिस व आला अफसरों का मानना है कि बदमाशों ने पहले कई दिन ओमप्रकाश की रैकी की थी। उन्हें पता था कि कब उसके पास कैश ज्यादा होगा, तभी उन्होंने हमला किया। पुलिस को मौके गोली का खोल भी मिला है।

    - घटना के बाद ए श्रेणी की नाकाबंदी करके सभी थाना प्रभारियों को भी इलाके में संदिग्ध लोगों को पकड़कर पूछताछ करने के निर्देश दिए, लेकिन देर रात तक पुलिस को कोई सुराग नहीं लगा।

    15 साल से डेयरी बूथों से कर रहा था कलेक्शन
    - ओमप्रकाश अपनी पत्नी रेखा व बेटे वैभव के साथ करतारपुरा में रहता था।

    - ओमप्रकाश के परिजनों ने बताया कि वह डेयरी के ठेकेदार केपी जैन के पास पिछले 15 साल से काम कर रहा था और बाइक से कलेक्शन करता था। वह सुबह 9 बजे रोजाना घर से जाता था।


    हैरानीजनक : पुलिस को भी आधा घंटे बाद मिली खबर
    - खास बात यह है कि पुलिस को भी आधे घंटे बाद घटना का पता चला। सूचना मिलने के बाद तब एडिशनल पुलिस कमिश्नर प्रफुल्ल कुमार समेत आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और आसपास कॉलोनियों में घूमकर लोगों से घटना की जांच की।

    हमने बदमाश को पकड़ने की कोशिश की पर भाग निकले
    - घटनास्थल के पास रहने वाले योगेन्द्र ने बताया कि गोली की आवाज पर वह बाहर आए। उन्होंने देखा कि 3 बदमाश एक व्यक्ति से बैग छीन रहे थे और उनमें से एक के हाथ में पिस्तौल थी। योगेन्द्र ने शोर मचाया तो अन्य लोग भी बाहर आए।

    - लोगों को देख तीनों बदमाश बाइक लेकर भागने लगे। लोगों ने पीछा भी किया, मगर बदमाश भाग निकले। योगेन्द्र अन्य लोगों के साथ घायल ओमप्रकाश को उठाकर अपने घर ले गया।

    - ओमप्रकाश के सिर से लगातार खून बह रहा था, जिस पर लोगों ने एम्बुलेंस बुलाई और उसे एसएमएस अस्पताल ले गए।

    डेयरी एजेंटों से 10 माह में चौथी घटना, इत्तेफाक चारों सोमवार को ही हुई
    - पिछले 10 माह में डेयरी बूथ से कलेक्शन करने वाले एजेंट से लूट की यह चौथी घटना है। चार घटनाओं में यह पहली हत्या भी है।

    - इससे पहले बदमाशों ने रैकी करने के बाद बजाजनगर, प्रतापनगर व शिप्रापथ थाना इलाके में डेयरी बूथ एजेंटों को लूटा था। हालांकि, पुलिस ने तीनों वारदातों के आरोपियों को पकड़ लिया है। इनमें खास बात यह है कि चारों घटनाएं सोमवार को ही हुई हैं।

  • रुपयों भरा बैग छीनने के लिए रोका, पीटा और की छीना-झपटी; फिर गोली मारी
    +4और स्लाइड देखें
  • रुपयों भरा बैग छीनने के लिए रोका, पीटा और की छीना-झपटी; फिर गोली मारी
    +4और स्लाइड देखें
  • रुपयों भरा बैग छीनने के लिए रोका, पीटा और की छीना-झपटी; फिर गोली मारी
    +4और स्लाइड देखें
  • रुपयों भरा बैग छीनने के लिए रोका, पीटा और की छीना-झपटी; फिर गोली मारी
    +4और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jaipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Jaipur Collection Agent Murder By Robbers
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×