--Advertisement--

50 हजार टीचर्स के साथ भेदभाव, दो महीने से नहीं मिली सैलरी

केंद्र ने जारी नहीं किया वेतन का बजट

Dainik Bhaskar

Jan 02, 2018, 06:42 AM IST
jaipur teachers Not found salary from two months

जयपुर. प्रारंभिक शिक्षा में काम कर रहे तृतीय श्रेणी के 50 हजार शिक्षकों के साथ भेदभाव हो रहा है। इन शिक्षकों को दो महीने से वेतन नहीं मिला है। जबकि इसी पद पर काम कर रहे अन्य शिक्षकों को वेतन समय पर मिल रहा है। यह 50 हजार शिक्षक वे हैं जिनको केंद्र के मद से वेतन मिलना है। केंद्र ने इन शिक्षकों के लिए अब तक बजट जारी नहीं किया।

- सर्व शिक्षा अभियान (एसएसए) के तहत प्रारंभिक शिक्षा में काम कर रहे शिक्षकों को केंद्र और राज्य के मद के रूप में दो भागों में बांटा हुआ है।

- इनमें से राज्य के मद में काम कर रहे शिक्षकों को वेतन मिल रहा है, लेकिन जिन शिक्षकों को शिक्षा विभाग ने केंद्र के मद में डाल रखा है। केंद्र ने बजट नहीं दिया। इसलिए यह शिक्षक वेतन को तरस रहे हैं।

- वेतन नहीं मिलने के कारण उनको आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। कई शिक्षकों ने बैंकों से लोन ले रखा है। उनकी किस्त बकाया हो गई है। शिक्षकों ने कई बार इस बारे में अधिकारियों को अवगत कराया, लेकिन कुछ नहीं हुआ।

- अब अगर वेतन मिलने में और देरी हुई तो भविष्य में इन दो महीनों के वेतन के लिए बड़ी परेशानी खड़ी हो सकती है।

- जयपुर में सांगानेर, दूदू, चाकसू, बस्सी, फागी सहित करीब सभी ब्लॉकों में 200 से 300 शिक्षक ऐसे हैं जिनको वेतन नहीं मिला है। यही स्थिति राजस्थान के अन्य सभी ब्लॉकों की है।


भविष्य में पीईईओ बनाएंगे वेतन तो आएगी परेशानी
वर्तमान में इन तृतीय श्रेणी शिक्षकों को बीईईओ कार्यालयों के जरिए वेतन मिलता है। विभाग ने भविष्य में शिक्षकों का वेतन अब पीईईओ के जरिए जारी करने का आदेश निकाल दिया है। शिक्षकों का कहना है कि उनको अपना वेतन आईडी पीईईओ के यहां ट्रांसफर कराने के लिए कहा जा रहा है। लेकिन अगर उन्होंने यह बकाया वेतन मिलने से पहले आईडी ट्रांसफर करा ली तो भविष्य में यह वेतन मिलने में नई परेशानी खड़ी हो सकती है।

जल्द दिलाएंगे वेतन

शिक्षकों को वेतन दिलाने के लिए निदेशालय को पत्र लिख दिया है। जल्दी ही शिक्षकों को बकाया वेतन मिल जाएगा।
- उमरावलाल, जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक जयपुर

हमने अपनी पीड़ा से शिक्षामंत्री, शिक्षा निदेशक और डीईओ को अवगत करा दिया। कोई राहत नहीं मिली।

- पवन पांडे, अध्यक्ष, राज. शिक्षक संघ (राष्ट्रीय) सांगानेर

केंद्र को शिक्षकों का पूरे साल का बजट एक साथ देना चाहिए। ताकि बार बार वेतन नहीं मिलने की परेशानी न हो।
- विपिन प्रकाश शर्मा, उपाध्यक्ष, राज. प्रा. एवं म. शिक्षक संघ

X
jaipur teachers Not found salary from two months
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..