--Advertisement--

'स्कूल बस में तोड़फोड़ में करणी सेना का हाथ नहीं, इसमें भंसाली का हाथ'

हमारे पास 112 ऐसे लोगों के वीडियो हैं जो रिलीज होने के बाद पद्मावत देख चुके हैं।

Danik Bhaskar | Jan 26, 2018, 05:10 AM IST

जयपुर. हरियाणा के गुडगांव में बुधवार को बच्चों से भरी स्कूल बस में तोड़फोड़ के मामले में श्री राजपूत करणी सेना का किसी प्रकार का हाथ नहीं है। यह सफाई गुरुवार रात को राजपूत सभा भवन में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में करणी सेना के संरक्षक लोकेन्द्र सिंह कालवी ने दी। कालवी का कहना है कि बच्चों से भरी बस में तोड़फोड़ करना हमारे खिलाफ एक साजिश है। वहां की सरकार को इसकी उच्च स्तरीय जांच करवानी चाहिए। इसमें भंसाली का हाथ हो सकता है।

- उनका कहना है कि वह खुद वहां पहुंचकर अपने स्तर पर जांच करवाई है। कई प्रत्यक्षदर्शियों के बयान रिकॉर्ड करके लाएं है। घटना के वक्त करणी सेना सभी कार्यकर्ता बस बहुत दूर खड़े थे

- इस दौरान भीड़ को पार करके दो मोटरसाइकिलों पर सवार होकर कहीं से 4 युवक आएं और बस में तोड़फोड़ करके भाग गए। हमारा जनता कर्फ्यू पूरे देश में शांतिपूर्ण रहा है।

- शुक्रवार को गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम होने के बाद फिर से विरोध, प्रदर्शन रहेगा। देशभर में 50 प्रतिशत से ज्यादा सिनेमा हॉल में पद्मावत नहीं दिखाई गई।

- नॉर्थ इंडिया के 14 राज्यों में केवल 22 सिनेमाघरों में फिल्म लगी हैं। उनसे भी हम अपील कर रहे हैं। हमारे पास 112 ऐसे लोगों के वीडियो हैं जो रिलीज होने के बाद पद्मावत देख चुके हैं।

प्रसून जोशी को जयपुर नहीं आने की दी चेतावनी

विवादित फिल्म पद्मावत के विरोध में गुरुवार को करणी सेना विशाल रैली निकाली और प्रदेश में फिल्म प्रदर्शित नहीं करने पर सिनेमा प्रबंधन को धन्यवाद दिया। श्री राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष महिपाल मकराना व विवेक शेखावत के नेतृत्व में सैकंडों कार्यकर्ता गुरुवार सुबह सीकर रोड भवानी निकेतन ग्राउंड में इक्कट्ठे होकर मोटरसाइकिलों व गाड़ियों में सवार होकर एमआई रोड राजपूत सभा भवन पहुंचे थे। इसके कुछ देर बाद जिलाध्यक्ष नारायण सिंह दिवराला व महेन्द्र परागपुरा के नेतृत्व में दूसरी रैली भी पहुंच गई।

प्रदेशाध्यक्ष महिपाल मकराना ने बताया कि करणी सेना के शांति मार्च में विश्व हिन्दू परिषद ने भी सहयोग किया और रामसिंह चांदलाई के नेतृत्व में कई कार्यकर्ता पहुंचे हैं। साथ ही कहा कि इस फिल्म को प्रदर्शित नहीं करने वाले सिनेमा प्रबंधन को धन्यवाद दिया और आगे भी प्रदर्शित नहीं करने की अपील कि हैं। करणी सेना ने प्रसून जोशी के जयपुर में नहीं आने की चेतावनी दी है। इधर, खातीपुरा में व्यापारियों ने खुद दुकानें बंद रखी।

सिनेमा मैनेजर को पहनाई माला
वैशाली नगर में आम्रपाली सर्किल स्थित वैभव सिनेमा के बाहर राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के शेरसिंह के नेतृत्व में कार्यकर्ता इक्कट्ठे हुए और फिल्म नहीं लगाने पर वैभव सिनेमा के मैनेजर को माला पहनाकर सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।