--Advertisement--

5 साल पहले जंगल में मिली थी लाश, आभूषण खरीदने वाले को 5 साल जेल

पीड़िता ने जेल में आरोपियों की शिनाख्त की थी। बाद में कोर्ट में घटना की गवाही भी दी।

Danik Bhaskar | Dec 22, 2017, 06:41 AM IST

जयपुर. सेशन कोर्ट ने आमेर थाना क्षेत्र में छात्र सूरज मीणा हत्याकाण्ड के मुख्य अभियुक्त हिम्मत मीणा को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। साथ ही 2.81 लाख का जुर्माना लगाया है। जेवर खरीदने वाले को पांच साल कठोर कारावास की सजा दी गई है। पोक्सो मामलों के विशेष न्यायालय ने सूरज मीणा हत्याकांड में फैसला किया।

- जज अलका बंसल ने काल्या की ढाणी निवासी हिम्मत मीणा को आजीवन कारावास और चिताणु निवासी रामकेश मीणा को पांच साल जेल की सजा दी है। मामले में बाद में गिरफ्तार किए गए हनीश खां के खिलाफ अलग से कोर्ट में ट्रायल चल रही है। दो नाबालिग आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने किशोर न्यायालय में चालान पेश किया था।

- सूरज की लाश सैकडों पुलिसकर्मियों के जंगल छानने के बाद तीसरे दिन मिली थी। अभियुक्त 5 फरवरी, 2013 को गिरफ्तार के बाद से अब तक जेल में है। अभियोजन ने 16 गवाहों को पेश किया। पीड़िता ने जेल में आरोपियों की शिनाख्त की थी। बाद में कोर्ट में घटना की गवाही भी दी।

यह था मामला

- सूरज मीणा ने शादी के लिए प्रेमिका को 2 फरवरी, 2०13 को बुलाया। लड़की रात 8 बजे पास की धर्मशाला की छत पर पहुंची। उसे हिम्मत और एक अन्य नाबालिग सूरज के पास ले गए। चारों कूकस स्थित जैन मंदिर पहाडि़यों पर गए। वहां हिम्मत ने सूरज की हत्या कर दी।

- हिम्मत ने लड़की से दुष्कर्म किया और बैग में रखे जेवर ले लिए। हिम्मत छात्रा की हत्या करने वाला था लेकिन नाबालिग आरोपी की दुहाई पर छोड़ दिया।