Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Logistics Workers Made Fake Women S Organization Sell Wheat

फर्जी महिला संगठन बना रसदकर्मियों ने 14 हजार क्विंटल गेहूं बेच दिया

जिस आवेदन पर दुकानें आवंटित हुईं उस पर आवेदकों का नाम-पता और फोटो तक नहीं

राधेश्याम तिवाड़ी | Last Modified - Jan 19, 2018, 04:42 AM IST

फर्जी महिला संगठन बना रसदकर्मियों ने 14 हजार क्विंटल गेहूं बेच दिया

अलवर. गरीबों के लिए आवंटित 40 हजार लीटर केरोसीन और 14 हजार क्विंटल गेहूं ब्लैक में बाजार में बेचने के ढाई साल पुराने मामले में एसीबी ने रिटायर्ड जिला रसद अधिकारी अलित जैन और प्रवर्तन निरीक्षक बनवारी लाल शर्मा समेत 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। आरोपियों ने फर्जी तरीके से राशन की दो दुकानों का आवंटन कराया और एक साल में 40 हजार लीटर केरोसीन और 14 हजार क्विंटल गेहूं बेच दिया। राशन हड़पने का यह खेल अप्रैल 2014 में शुरू हुआ और करीब एक साल तक चला।

इस प्रकरण में अमरदीप महिला समूह की अध्यक्ष कृष्णा देवी और गौरव संस्था की राजबाला, दुकान संचालक सूबे खान तथा दीपक अग्रवाल को भी आरोपी बनाया है। हैरानीजनक यह कि 10 उचित मूल्य की दुकानों का आवंटन महिला स्वयं सहायता समूहों को होना था। जिला रसद अधिकारी कार्यालय ने 18 सितंबर 2013 को एक-एक दुकान अमरदीप महिला सहायता समूह शिकारी बास और गौरव महिला स्वयं सहायता समूह साहब जोहड़ अलवर को भी आवंटित किया। लेकिन इनके आवेदन में नाम, पता, फोटो और संबंधित दस्तावेज ही नहीं थे।

रजिस्टर में राशन कार्ड दर्ज ही नहीं

एसीबी को 27 मई 2015 को गुमनाम शिकायत मिली कि वरिष्ठ लिपिक राजेश वर्मा ने गौरव महिला स्वयं सहायता समूह एवं ईओ छोटे लाल मीणा ने अमरदीप महिला स्वयं सहायता समूह के नाम से महिला सोसायटी बनाई है। दाेनों ने मार्च 2014 में रसद विभाग से राशन की दुकान संख्या 92 एवं 93 के लाइसेंस लिए। रसद विभाग ने दोनों दुकानों को गेहूं व केरोसिन आवंटन किया। मगर इन दोनों दुकानों का धरातल पर कोई पता नहीं है। इनके वितरण रजिस्टर भी खाली हैं। गेहूं व केरोसिन का वितरण स्टॉक रजिस्टर में ही काट दिया जाता है। दुकानों पर यूनिट रजिस्टर में एक भी राशन कार्ड अंकित नहीं है।

39000 लीटर केरोसीन भी बेचा

एसीबी ने दोनों दुकानों का रिकॉर्ड प्राप्त कर यूनिट रजिस्टरों को जब्त किया। दुकान संख्या 93 के संचालक दीपक अग्रवाल व सूबे खान के अलावा दुकान मालिक गिर्राज मीणा व मदन सिंह के बयान दर्ज किए। एसीबी ने बताया अमरदीप व गौरव महिला स्वयं सहायता समूह को रसद विभाग ने 24420 लीटर केरोसिन एवं 13288 क्विंटल गेहूं आवंटित किया गया था। समूह अध्यक्षों ने अफसरों से मिलीभगत कर आवंटित में 36960 लीटर केरोसीन एवं 14031 क्विंटल गेहूं हड़प लिया। एसीबी को फर्जी दुकानों के लिए रसद विभाग द्वारा चीनी आवंटित किए जाने के संबंध में कोई रिकार्ड नहीं मिला।

मामले की जांच के बाद सबकुछ सामने होगा
एसीबी ने मामला दर्ज किया है। जांच में पूरी स्थिति सामने आ जाएगी। मेरे द्वारा कोई अनियमितता करने का कोई सवाल ही नहीं उठता। मैंने कोई अनियमितता नहीं बरती है। जांच के बाद सब साफ हो जाएगा।

-ललित जैन, तत्कालीन जिला रसद अधिकारी

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jaipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: frji mahila sngathn bana rsdkarmiyon ne 14 hazaar kvintl gaehun bech diyaa
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×