Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Palace On Wheel Train Best Tourist Train Of The Year International Award

इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा

23 कोच की इस शाही रेलगाड़ी में 14 सैलून, एक स्पा कोच, दो महाराजा एवं महारानी रेस्टोरेंट एवं एक रिसेप्शन कम बार कोच हैं।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 01, 2018, 12:32 PM IST

  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    पैलेस ऑन व्हील्स (पीओडब्ल्यू)

    जयपुर. पैलेस ऑन व्हील्स (पीओडब्ल्यू) की अपार सफलता के बाद सुपर लग्जरियस ट्रेन के नाम से 1982 में शुरू हुई राजस्थान पर्यटन विकास निगम की शाही रेल पैलेस ऑन व्हील्स(आरआरओडब्ल्यू) का बेस्ट ट्यूरिस्ट ट्रेन ऑफ द ईयर इंटरनेशनल अवार्ड के लिए चयन हुआ है। यह अवार्ड 9 मार्च को बर्लिन में इंटरनेशनल ट्रेवल्स बुर्ज (आईटीबी) की ओर से आयोजित होने वाले ट्रेवल मार्ट के समारोह में दिया जाएगा। बता दें कि इस ट्रेन को वर्ल्ड की टॉप 10 लग्जरी ट्रेन्स में रखा गया है। इस ट्रेन के अंदर जिम, बार, फूड कोर्ट के अलावा कई सुविधाएं लोगों को दी जाती हैं।

    ये सुविधाएं मिलती हैं इस ट्रेन में

    - इसके केबिन के नाम हवा महल, पद्मिनी महल, किशोरी महल, शीश महल, फूल महल और सुपर डीलक्स कोच ताज महल हैं। इन सैलूनों में नाम के अनुसार डिजाइन की गई है। इन डीलक्स केबिनों में वाई फाई इंटरनेट, सैटेलाइट टीवी, म्यूजिक सिस्टम और व्यक्तिगत तापमान नियंत्रण की सुविधाएं उपलब्ध है।
    - इसके प्रत्येक कोच में चार केबिन हैं (जिन्हें कंपनी द्वारा सैलून या चैम्बर का नाम दिया गया है) जो विलासिता और ठाठ की सुविधाओं से परिपूर्ण हैं। इसके शीश महल कोच में लगभग सभी चीजों को कांच से बनाया गया है।
    - ट्रेन में भारतीय और अंतरराष्ट्रीय ब्रांडों के स्प्राइट्स और वाइन की सुविधा है जो इसे लग्जरी बनाने मे सहायक है।
    - इस शाही सवारी के द्वारा आप ताज महल, हवा महल, मोती महल, शीश महल, रंणथंभौर नेशनल पार्क चितौड़गढ़ किला और आगरे के किले का आनंद ले सकते हैं।
    - इसमें खाने के तौर पर यात्रियों को भारतीय के साथ-साथ यूरोपीय, चीनी एवं कॉण्टिनेण्टल खाना भी परोसा जाता है।

    इतना है किराया (2017)

    सितंबर व अप्रैल में
    - एक अकेला व्यक्ति-575 डॉलर यानी 34,787.50 रुपए।
    - दो व्यक्ति एक साथ-430 डॉलर यानी 26,015 रुपए प्रति व्यक्ति।
    - तीन व्यक्ति एक साथ-390 डॉलर यानी 23,595 रुपए प्रति व्यक्ति।

    अक्टूबर से मार्च तक
    - एक अकेला व्यक्ति-770 डॉलर यानी 46,585 रुपए।
    - दो व्यक्ति एक साथ-575 डॉलर यानी 34,787.50 रुपए प्रति व्यक्ति।
    - तीन व्यक्ति एक साथ-520 डॉलर यानी 31,460 रुपए प्रति व्यक्ति।

    कोच के नाम हैं रजवाड़ों के नाम पर

    - अवार्ड के लिए इस ट्रेन का चयन ट्रेवल राइटर्स की इंटरनेशनल संस्था द पेसिफिक एरिया ट्रेवल राइटर्स एसोसिएशन (पीएटीडब्ल्यूए) ने किया है।

    - राजस्थान सरकार के दो अधिकारी डायरेक्टर (टूरिज्म) प्रदीप बोरड़ और वित्तीय सलाहकार मनीष माथुर अवार्ड लेने के लिए बर्लिन जाएंगे। इस ट्रेन की शुरूआत 1982 में हुई थी।

    - भारतीय रेलवे के सहयोग से संचालित इस ट्रेन में 14 एसी कोच है। कोच के नाम राजस्थान रियासत के प्रमुख रजवाड़ों के नाम पर है।

    - ट्रेन में विशेष भोजन के लिए अलग व्यवस्था है। ट्रेन प्रत्येक बुधवार को नई दिल्ली से रवाना होकर जयपुर, सवाई माधोपुर, चित्तौडगढ, उदयपुर, जैसलमेर, जोधपुर, भरतपुर, आगरा होते हुए वापस नई दिल्ली जाती है।

  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    पैलेस ऑन व्हील्स के अंदर स्थित जिम
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    पैलेस ऑन व्हील्स ट्रेन का इंटीरियर
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    इसके केबिन के नाम हवा महल, पद्मिनी महल, किशोरी महल, शीश महल, फूल महल और सुपर डीलक्स कोच ताज महल हैं।
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    पैलेस ऑन व्हील्स ट्रेन में खाने की जगह।
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    सैलूनों में नाम के अनुसार डिजाइन की गई है।
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    डीलक्स केबिनों में वाई फाई इंटरनेट, सैटेलाइट टीवी, म्यूजिक सिस्टम और व्यक्तिगत तापमान नियंत्रण की सुविधाएं उपलब्ध है।
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    इसके प्रत्येक कोच में चार केबिन हैं
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    शीश महल कोच में लगभग सभी चीजों को कांच से बनाया गया है।
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    ट्रेन में भारतीय और अंतरराष्ट्रीय ब्रांडों के स्प्राइट्स और वाइन की सुविधा है जो इसे लग्जरी बनाने मे सहायक है।
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    इस शाही सवारी के द्वारा आप ताज महल, हवा महल, मोती महल, शीश महल, रंणथंभौर नेशनल पार्क चितौड़गढ़ किला और आगरे के किले का आनंद ले सकते हैं।
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    इसमें खाने के तौर पर यात्रियों को भारतीय के साथ-साथ यूरोपीय, चीनी एवं कॉण्टिनेण्टल खाना भी परोसा जाता है।
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    अवार्ड के लिए इस ट्रेन का चयन ट्रेवल राइटर्स की इंटरनेशनल संस्था द पेसिफिक एरिया ट्रेवल राइटर्स एसोसिएशन (पीएटीडब्ल्यूए) ने किया है।
  • इस ट्रेन में जिम-स्पा-सैलून के साथ मिलती हैं कई फैसिलिटी, अंदर से दिखता है ऐसा
    +13और स्लाइड देखें
    राजस्थान सरकार के दो अधिकारी डायरेक्टर (टूरिज्म) प्रदीप बोरड़ और वित्तीय सलाहकार मनीष माथुर अवार्ड लेने के लिए बर्लिन जाएंगे। इस ट्रेन की शुरूआत 1982 में हुई थी।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jaipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Palace On Wheel Train Best Tourist Train Of The Year International Award
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×