--Advertisement--

4 बेटे जिस मां की कर रहे थे तलाश, पैंथर की गुफा के बाहर पड़ा था उसका पैर

मंगलवार को जंगल में मां के शव के कुछ हिस्से और जगह जगह हडि्डयां मिलीं।

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 10:15 PM IST
डॉग स्वायड की मदद से मिट्‌टी की एक गुफा के बाहर मिला महिला का पैर। डॉग स्वायड की मदद से मिट्‌टी की एक गुफा के बाहर मिला महिला का पैर।

वैर/भरतपुर. जिस मां को 4 बेटे और एक बेटी 4 दिन से तलाश कर रहे थे, उसका शिकार जगजीवनपुर के जंगल में पैंथर या जरख ने कर लिया। मंगलवार को जंगल में मां के शव के कुछ हिस्से और जगह जगह हडि्डयां मिलीं। मंगलवार को जगजीवनपुर के पहाड़ी क्षेत्र में एक शव के कुछ टुकड़े मिले तो इसकी पहचान टुंडपुरा की रहने वाली 65 साल की रामप्यारी के रूप में हुई। गांव वालों का कहना था कि रामप्यारी का पैंथर ने शिकार कर लिया है। हादसा महिला के घर टुंडपुरा से 8 किमी दूर का है। हालांकि, वन विभाग जरख का शिकार होने से भी इनकार कर रहा है।

- मंगलवार को सुबह 9 बजे गांव में सूचना मिली कि गांव जगजीवनपुर के पहाड़ी क्षेत्र में किसी महिला के शव के कुछ टुकड़े मिले हैं। ऐसे में टुंडपुरा से भी लोग पहुंच तो उनको शक हुआ कि यह टुकड़े कुछ कपड़े रामप्यारी के हो सकते हैं।

- मौके पर जलसिंह को बुलाया तो उसने कपड़े और कुछ टुकड़ों को 65 वर्षीय मां, रामप्यारी के होने की पुष्टि की। तत्काल घटना की जानकारी पुलिस और वन विभाग की टीमों को दी गई।

- टीमों को जंगल में जगह-जगह खून के धब्बे दांत पड़े हुए मिले। कई जगहों पर घसीटने के निशान तथा एक जंगली जानवर के पग मार्क भी दिखाई दिए है।

डॉग स्क्वायड की मदद

- थाना प्रभारी विजयसिंह ने मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों की सहायता से पहाड़ी पर काफी देर तक तलाश किया, लेकिन उसका कोई पता नहीं चल सका।

- वन विभाग की टीम की मदद से जंगल नजदीकी पहाड़ी में देर शाम तक उसकी तलाश की गई।

- जंगली जानवर वृद्ध महिला से संबंधित अवशेषों की 4 घंटे तलाश करने के बावजूद कोई सफलता नहीं मिली है। अंत में डॉग स्क्वायड की मदद ली गई।

- डॉग अंत में एक गुफा में जाकर रुक गया। जहां एक पैर का हिस्सा मिला, जिसमें पायल पहनी हुई है।

- गुफा संकरी होने की वजह से उसमें अंदर नहीं जा पाए। इस कारण जानकारी नहीं हो सकी।

तीन महीने पहले भी हमला करके किया था घायल
- इससे पहले त्यौहारी गांव में करीब 3 माह पूर्व भी जंगल गए कुछ लोगों पर जंगली जानवर ने हमला कर दिया था।

- इसके बाद ग्रामीणों ने क्षेत्र में जंगली जानवर का आंतक होने की बात शांति सतर्कता समिति की बैठक में बताई। जिस पर एसडीएम बीड़ी शर्मा ने वन विभाग को कार्रवाई के निर्देश दिए थे, लेकिन वन विभाग ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया।


यह दी थी रिपोर्ट: बिना बताए गई थी महिला
- मृतका के बेटे जलसिंह ने दी रिपोर्ट में बताया है कि उसकी मां शनिवार को दिन में घर बिना बताए ही कहीं चली गई। मां की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। उसके चार भाई और एक बहन मां की तलाश में जुटे हुए थे। पर मिली ही नहीं।

घटनास्थल के आसपास जरख के पग मार्क मिले
- रेंजर महेश शर्मा ने बताया कि घटना के आसपास जरख के पग मार्क मिले हैं। जरख ने महिला का शिकार किया है, यह कहना काफी मुश्किल है।

- बुधवार को जंगल में जरख को पकड़ने के लिए पिंजरा लगवाया जाएगा। ग्रामीणों को जंगल में अकेले नहीं जाने के कहा है।

छलकी पीड़ा...कहीं दांत मिले तो कहीं पैर, जगह-जगह थे खून के निशान। छलकी पीड़ा...कहीं दांत मिले तो कहीं पैर, जगह-जगह थे खून के निशान।

इधर, सवा महीने से लापता है घना का पेंथर
- केवलादेव घना राष्ट्रीय पक्षी उद्यान का पैंथर का अभी तक सुराग नहीं लगा है। पैंथर को अंतिम बार 20 नवंबर को देखा गया था।

- इसके बाद घना प्रशासन 3 बार सघन जांच अभियान चला चुका है तथा उसके संभावित स्थानों पर कैमरे  भी लगाए जा चुके हैं, किंतु अभी तक फुटप्रिंट, साइटिंग अथवा शिकार नहीं मिला है, जिससे पुष्टि हो सके कि पेंथर घना में ही है।

- घना के कोलाडहर इलाके से सटे गांवों में भी फुटप्रिंट तलाशे गए हैं, किंतु अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है। इससे घना प्रशासन चिंतित है।

जगजीवनपुर में जंगलों में मिले वृद्ध महिला के कपड़े। जगजीवनपुर में जंगलों में मिले वृद्ध महिला के कपड़े।

विधायक ने की मृतक आश्रितों को 4 लाख की घोषणा
- कांग्रेस विधायक भजनलाल ने जंगली जानवर की हुई शिकार महिला के परिजनों को सरकार से चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता दिलाने की घोषणा की है।

- इसी के साथ एसडीएम ने 50 हजार रुपए मुख्यमंत्री सहायता कोष से दिलाने की घोषणा करते कहा कि वे पीड़ित परिवार के साथ हैं एवं उन्हें सरकार से मदद दिलाने के हरसंभव प्रयास करेंगे।

- इधर, ग्रामीणों ने विधायक के साथ ही अन्य अधिकारियों से मांग की है कि ग्रामीण क्षेत्र में दिन में बिजली दी जानी चाहिए। विधायक ने भी अधिकारियों से कहा है कि दिन में बिजली दी जाए।

दर्दनाक घटना: मानसिक रूप से कमजोर रामप्यारी शनिवार से लापता थी । दर्दनाक घटना: मानसिक रूप से कमजोर रामप्यारी शनिवार से लापता थी ।

 

 

महिला दिन में घर बिना बताए ही कहीं चली गई। मां की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। महिला दिन में घर बिना बताए ही कहीं चली गई। मां की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है।
महिला के अंगों की शिनाख्त के लिए खुदाई करती जेसीबी। महिला के अंगों की शिनाख्त के लिए खुदाई करती जेसीबी।