जयपुर

--Advertisement--

दो मासूम बेटियों के साथ गर्भवती महिला ने किया आत्मदाह

डूंगरपुर के सागवाड़ा कस्बे की घटना, पीहर पक्ष का आरोप-पति, सास-ससुर ने तीनों को जलाया

Danik Bhaskar

Apr 02, 2018, 03:36 AM IST
पीहर पक्ष का आरोप-पति, सास-ससुर पीहर पक्ष का आरोप-पति, सास-ससुर

सागवाड़ा (डूंगरपुर). जिले के सागवाड़ा कस्बे की इंदिरा कॉलोनी में पति और बच्चों के साथ रहने वाली एक गर्भवती महिला ने रविवार सुबह 10 बजे दोनों बेटियों के साथ ही खुद के शरीर पर केरोसिन डाल आत्मदाह कर लिया। घटना के बाद घर से धुआं उठने लगा तो आसपास के लोग दौड़े और किवाड़ तोड़ कर अंदर गए तो पता चला कि तीनों जल रहे हैं। लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन तीनों ने दम तोड़ दिया। इनके साथ ही मां की कोख में पल रहे नवजात की भी मौत हो गई। इस घटनाक्रम को लेकर अभी तक ठोस कारण सामने नहीं आया, लेकिन समझा जा रहा है कि पारिवारिक विवाद के चलते ही महिला ने ऐसा कदम उठाया होगा। इस दर्दनाक घटना को जिसने सुना, सिहरकर रह गया।

- सागवाड़ा की इंदिरा कॉलोनी में चामुंडा माता मंदिर के पास रहने वाली अनिता कोटेड (26) पत्नी गौरीलाल कोटेड ने अपनी दो मासूम बेटियां चांदनी (6) और शिल्पा (3) के साथ आत्मदाह कर लिया।

हालांकि पुलिस प्रारंभिक जांच में इसे आत्मदाह ही मान रही है।

- वहीं मृतक के पति गौरीशंकर ने प्रारंभिक पूछताछ में किसी भी पारिवारिक विवाद से इनकार किया है। ऐसे में प्रकरण पूरी तरह से संदिग्ध लग रहा है।

- अनिता को 5 माह का गर्भ था और छठा माह अभी शुरू ही हुआ था। बड़ी बेटी चांदनी दूसरी कक्षा में पढ़ती थी। इस घटनाक्रम के पहले अनिता का पति खाना खाकर और टिफिन लेकर काम पर निकला था और पास ही दूसरे घर में रहने वाले सास-ससुर लकड़ियां बीनने के लिए निकल गए थे। इसके बाद यह घटनाक्रम हुआ।

- दूसरी ओर, इस घटनाक्रम के बाद सागवाड़ा पहुंचे पीहर पक्ष गामड़ी अहाड़ा से भाई मोहनलाल ओर अन्य परिजनों ने पति गौरीलाल और ससुर कणजी, सास के ऊपर आरोप लगाया है कि इन्हीं लोगों ने उनकी बहन और भांजियों को जिंदा जलाया है, लेकिन पति का दावा है कि उसके मां-बाप लकड़ियां बीनने ही गए थे।


पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आएगा सच, खुद जली या जलाया

- पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इस घटनाक्रम का सच सामने आने की उम्मीद है, क्योंकि रिपोर्ट में आग खुद ने जलाई हो या फिर किसी ने जलाई हो। लेकिन, तकनीकी स्तर पर विश्लेषण से इस घटनाक्रम का सच जानने में मदद मिलेगी। इसके बाद ही हकीकत का पता चल सकेगा।


पीहर पक्ष ने पुलिस को रिपोर्ट देकर बताया, 8 साल शादी के हुए, 2 बार पति-पत्नी में विवाद हुआ

- दूसरी ओर, पुलिस को पीहर पक्ष की ओर से दी गई रिपोर्ट में बताया गया कि दोनों की शादी के 8 साल हुए हैं। इस बीच दो बार आपस में झगड़ा और मारपीट हुई थी। इसे सामाजिक स्तर पर सुलझा दिया गया था।

- रिपोर्ट के अनुसार पीहर पक्ष ने सीधे ही पति, सास और ससुर पर जिंदा जलाने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। पुलिस ने आपस में समझाइश और पोस्टमार्टम कराकर तीनों के शव परिजनों को दे दिए हैं।

Click to listen..