--Advertisement--

बाबा वीरेंद्र देव का ये आश्रम भी सवालों के घेरे में, 2 महीने से गायब यहां की महिला

इस आश्रम में किसी को भी जाने की इजाजत नहीं। 3 गेटों पर हमेशा ताले रहते हैं।

Danik Bhaskar | Dec 23, 2017, 06:06 AM IST
आबूरोड स्थित चार मंजिला आश्रम आबूरोड स्थित चार मंजिला आश्रम

नई दिल्ली/माउंटआबू. दिल्ली में बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के आश्रम आध्यात्मिक विश्वविद्यालय में अनैतिक गतिविधियों के संचालन के खुलासे के बाद राजस्थान में भी आश्रमों पर छापे मारे गए। पुलिस ने माउंट आबू और आबू रोड स्थित दीक्षित के आश्रमों में जांच-पड़ताल की। हालांकि, यहां कुछ भी आपत्तिजनक नहीं मिलने का दावा किया गया। लेकिन दोनों ही आश्रमों की गतिविधियों को देखते हुए कई सवाल उठ रहे हैं। उधर, बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित भूमिगत हो गया है। दिल्ली हाईकोर्ट के निर्देश के बावजूद शुक्रवार को न तो वह अदालत में पेश हुआ। न ही उसके बारे में कोई जानकारी दी गई। इस पर एक्टिंग चीफ जस्टिस गीता मित्तल व सी हरिशंकर की बेंच ने दिल्ली पुलिस व आश्रम के वकील को जमकर फटकार लगाई। कहा, यदि बाबा पेश नहीं हुआ तो हम वारंट जारी करेंगे। बाबा को ढूंढें और कोर्ट में पेश करें।’ मामले की अगली सुनवाई 4 जनवरी को होगी।

माउंट आबू का आश्रम सवालों के घेरे में, क्योंकि...

- आश्रम में किसी को भी जाने की इजाजत नहीं। तीन गेट, उन पर हमेशा ताले रहते हैं।
- संचालिका ने लड़कियों के अभिभावकों के नंबर आदि देने से भी इनकार कर दिया।
- संचालिका ने खुद सारी बातें कीं। एक-दो छात्राओं को भी सामने नहीं लाया गया।
- करीब दो माह पहले 41 साल की संजना वर्मा गायब हो गई थी। रिपोर्ट दर्ज, पर अब तक सुराग नहीं।
- आश्रम संचालिका कुसुम देवी ने कहा-यहां भौतिक और आध्यात्मिक शिक्षा दी जाती है। उन्होंने बताया कि यहां कुछ भी गलत नहीं होता।

सभी आश्रमों पर छापेमारी के आदेश
- हाईकोर्ट ने जांच एजेंसी की टीमों को दिल्ली में बताए जा रहे बाबा के सभी आश्रमों पर छापेमारी करने के निर्देश दिए हैं। दिल्ली में बाबा के 8 आश्रम बताए जा रहे हैं। हाई कोर्ट ने आश्रम और बाबा के बैंक खातों और संपत्ति के बारे में जानकारी मांगी है।

- सुनवाई के दौरान पुलिस ने बताया कि आश्रम में नाबालिग लड़कियों को पिंजरों में रखा जाता है। इस पर हाईकोर्ट ने कहा, हम पहला ऐसा आश्रम देख रहे हैं जहां मां को अपनी बेटी से नहीं मिलने दिया जाता। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।

मुक्त 41 लड़कियों में से कई बीमार
- दिल्ली के रोहिणी स्थित आश्रम से गुरुवार को 41 लड़कियों को मुक्त कराया गया था। उन्हें बाल ग्राम शेल्टर में शिफ्ट किया गया है। इनमें से कई बीमार हैं और कुछ बताने की स्थिति में नहीं हैं।

- बता दें कि हाईकोर्ट के निर्देश के बाद गुरुवार को दिल्ली के रोहिणी स्थित वीरेंद्र देव दीक्षित के आश्रम पर जांच की गई थी। यहां से 41 लड़कियों को मुक्त कराया गया था। यह भी सामने आया था कि आश्रम को सुरंग के जरिये दूसरे वीवीआईपी आश्रम से जोड़ा हुआ था। यहीं से लड़कियों को भेजा जाता था।