--Advertisement--

स्वाइन फ्लू में राजस्थान नंबर- 1, जनवरी में 8 साल का रिकॉर्ड टूटा, 23 मौत

संक्रमण के मामले में राजस्थान देश में पहले नंबर पर पहुंचा, 15 दिन में ही 363 पॉजिटिव मिले

Danik Bhaskar | Jan 16, 2018, 04:22 AM IST

जयपुर. नए साल में स्वाइन फ्लू का मिशिगन स्ट्रेन ज्यादा कहर बरपा रहा है और मौत का सिलसिला जारी है। सोमवार को प्रदेशभर में 8 लोगों में संक्रमण मिला तथा 3 की मौत हुई। इनमें 2 जयपुर से और 1 जोधपुर से है। जनवरी के 15 दिन में ही फ्लू से 363 लोग संक्रमित मिले, जबकि 23 लोगों की मौत हो चुकी है।

चिकित्सा विभाग की लापरवाही के चलते नए साल के जनवरी माह के 15 दिन में ही 363 पॉजिटिव आने पर देश में पहले नंबर पर आ गया है। पिछले साल पॉजिटिव मिलने में गुजरात पहले व महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर था। और मौत के मामले में महाराष्ट्र पहले और गुजरात दूसरे नंबर पर था। वर्ष 2010 से 2017 तक केवल जनवरी में 282 से ज्यादा पॉजिटिव नहीं मिले। राजस्थान में 15 दिन में ही 363 पॉजिटिव मिलने पर 8 साल का रिकाॅर्ड टूटा है।

मोटे लोगों में 3 गुना ज्यादा संभावना
स्वाइन फ्लू का कैलिफोर्निया की तुलना में मिशिगन स्ट्रेन जानलेवा साबित हो रहा है। मोटे लोगों को स्वाइन फ्लू संक्रमण से प्रभावित होने की संभावना दूसरे की तुलना में तीन गुना ज्यादा होता है। डॉ.कपिल अग्रवाल के अनुसार ऐसे लोग जिनका बीएमआई 40 से अधिक है, उनमें मौत का खतरा अधिक होता है। इसका कारण मोटे लोगों में टी-कोशिकाएं ठीक से काम नहीं कर पाती है।

भास्कर एक्सपर्ट पैनल: डॉ.पी.डी.खंडेलवाल, डॉ.रमन शर्मा, डॉ.अजीत सिंह, डॉ.पुनीत सक्सेना, डॉ.अशोक गुप्ता, डॉ.आर.के.माहेश्वरी, डॉ.एन.बी.राजोरिया, डॉ.प्रवीण मंगलूनिया।