जयपुर

--Advertisement--

राजस्थान एक बार फिर झूठे केस दर्ज कराने में नंबर वन

झूठा मुकदमा दर्ज कराने वालों पर सख्त हुई पुलिस

Danik Bhaskar

Dec 18, 2017, 04:09 AM IST

जयपुर. देश में प्रदेश के लोग सबसे ज्यादा झूठे आपराधिक मुकदमे दर्ज कराते हैं। इस बार भी नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) द्वारा जारी किए गए आंकड़ाें में राजस्थान में ही सबसे ज्यादा 54 हजार 964 मुकदमे झूठे दर्ज हुए हैं।

यह है स्थिति प्रदेश की
- प्रदेश में हत्या, लूट, चोरी, नकबजनी, डकैती, दुष्कर्म, छेड़छाड़, धोखाधड़ी, मारपीट समेत अन्य मामलों में 865 पुलिस थानों में केस दर्ज हुए हैं।

पिछले सालों से लगातार झूठे केस दर्ज कराने वालों की संख्या कम हो रही है। वर्ष 2017 में भारी गिरावट आई है, क्योंकि पुलिस ने अब एेसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है। इसके लिए एडीजी क्राइम सभी एसपी से मिलकर मॉनिटरिंग कर रहे हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ 182 व 211 आईपीसी में कार्रवाई करना शुरू कर दिया।
- ओपी गल्होत्रा, पुलिस महानिदेशक

असर :
- पुलिस की होती है परेड, परिवादियों को समय पर न्याय नहीं
- सबसे ज्यादा झूठे केस इस्तगासे से।
- नफरी की कमी से जांच अधिकारियों का काम बढ़ जाता है। ऐसे में उन्हें अनुसंधान में महीनों लग जाते तब नतीजे पर पहुंचते हैं।

- राजस्थान में ही सबसे ज्यादा 54964 मुकदमे झूठे दर्ज हुए हैं।

- पिछले 5 साल से झूठे पुलिस केस के मामले में राजस्थान सबसे आगे है।

- 32% आपराधिक मुकदमों को झूठा मानकर एफआर लगाती है हर साल।

Click to listen..