Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Rajput Women Says Release Padmaavat Film Then Allow Euthanasia

क्षत्राणियों ने स्वाभिमान रैली में कहा-फिल्म रिलीज करें तो इच्छामृत्यु की अनुमति भी दें

इसमें फिल्म बैन नहीं होने पर दुर्ग के जौहर स्थल पर ही इच्छा मृत्यु की अनुमति मांगी गई।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 22, 2018, 05:30 AM IST

  • क्षत्राणियों ने स्वाभिमान रैली में कहा-फिल्म रिलीज करें तो इच्छामृत्यु की अनुमति भी दें
    +1और स्लाइड देखें

    चित्तौड़गढ़.फिल्म पद्मावत का विरोध जारी है। राजपूती बाने में महिलाओं ने चित्तौड़गढ़ दुर्ग के जौहर स्थल से जौहर भवन तक स्वाभिमान रैली निकाली। महिलाएं हाथों में तलवारें लिए फिल्म निर्माता निर्देशक संजय लीला भंसाली के विरोध और रानी पद्मिनी के सम्मान में नारे लगा रही थीं। शहर के चंद्रलोक छविगृह पहुंचकर यह फिल्म नहीं चलाने का संकल्प दिलाया। बाद में राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री के नाम प्रशासन को ज्ञापन दिया। इसमें फिल्म बैन नहीं होने पर दुर्ग के जौहर स्थल पर ही इच्छा मृत्यु की अनुमति मांगी गई।

    फिल्म प्रदर्शित नहीं करने के लिए ज्ञापन

    - 25 जनवरी को रिलीज हो विवादित फिल्म पद्मावत को जयपुर के सिनेमाघरों में प्रदर्शित ना करने के लिए श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना ने रविवार को झोटवाड़ा के ट्रायटन मॉल स्थित सिनेपोलिस फन सिनेमा के मैनेजर को ज्ञापन दिया।

    - इस मौके पर श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के जिलाध्यक्ष शेर सिंह सिंगोद व टींकू सिंह शेखावत सहित कई लोग मौजूद थे।

    - दूसरी ओर भीलवाड़ा के आईनोक्स और मिराज सिनेमा में 25 जनवरी को पद्मावत रिलीज नहीं होगी। इसके लिए दोनों सिनेमाघर के संचालकों ने राजपूत संगठनों को लिखित में आश्वासन दिया।

  • क्षत्राणियों ने स्वाभिमान रैली में कहा-फिल्म रिलीज करें तो इच्छामृत्यु की अनुमति भी दें
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jaipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Rajput Women Says Release Padmaavat Film Then Allow Euthanasia
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×