जयपुर

--Advertisement--

टोल बूथ उखाड़ने पहुंचे लोग, रोका तो पथराव; एक पर गिरा आंसू गैस का गोला

ग्रामीणों का आरोप है कि टोल बूथ पर असामाजिक तत्वों का जमावड़ा रहता है।

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:07 AM IST
ग्रामीणाें को खदेड़ती पुलिस। ग्रामीणाें को खदेड़ती पुलिस।

चौमू/चीथवाड़ी/जयपुर. चौमू-चंदवाजी स्टेट हाइवे पर टोल प्लाजा के विरोध में 23 दिन से शांतिपूर्वक चल रहा अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन रविवार दोपहर करीब 12 बजे उग्र हो गया। इससे पहले अभा किसान सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमराराम चौधरी के नेतृत्व में सुबह 11 बजे हजारों किसानोें ने मीटिंग की।


इसके बाद टोल को उखाड़ने के लिए कूच करने लगे। एसीपी दीपक शर्मा ने भीड़ को काबू में करने के लिए शांतिपूर्वक धरना करने की अपील की और कानून को हाथ में लेने पर पुलिस कार्रवाई के लिए चेताया। इसके बाद भीड़ उग्र हो गई। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे नहीं माने और टोल बूथ की ओर बढ़ते चले गए तो पुलिस ने भीड़ को खदेड़ने के लिए हल्का बल प्रयोग किया। जैसे ही पुलिस ने बल प्रयोग शुरू किया तो किसानों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। इसमें कइयों के चोटें लगी।


दर्जनभर से ज्यादा गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई

पुलिस एक बार तो दबे पांव वापस पीछे हट गई मगर दुबारा पूर्ण जाब्ते के साथ भीड़ का मुकाबला किया। दोनों तरफ से 5 मिनट तक पत्थरबाजी की गई। इसके बाद भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस को आंसू गैस के 20 गोले छोड़ने पड़े। एक गोला नींदड़ निवासी बाबूलाल पुत्र मुरलीधर पर गिर गया जिससे वह गंभीर घायल हो गया। घायल को चौमू सीएचसी में लाने पर हालत गंभीर होने पर जयपुर एसएमएस हास्पिटल रेफर कर दिया। पत्थरबाजी के दौरान गोविंदगढ़ डीएसपी दीपक शर्मा, जाटावाली चौकी इंचार्ज मंजू चौधरी सहित 6 से ज्यादा पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। एहतियाती तौर पर टोल प्लाजा पर काफी संख्या में पुलिस जाब्ता तैनात था।

मौके से सभी वाहन जब्त

जाब्ते में तैनात एसडीएम प्रियव्रत सिंह चारण, गोविंदगढ़ डीएसपी दीपक शर्मा, सामोद थाना इंचार्ज भूपेंद्र सिंह फौजदार, जाटावाली चौकी इंचार्ज मंजू चौधरी सहित दर्जनों पुलिस जवान तैनात थे। पुलिस ने घटना के बाद अमराराम चौधरी सहित 18 लोगों को गिरफ्तार किया तथा मौके से सभी वाहनों को जब्त कर लिया।


चार थानों से जाब्ता बुलाया, रिजर्व फोर्स भी बुलाई
घटना की सूचना के बाद जयपुर ग्रामीण एसपी रामेश्वर सिंह भी मौके पर पहुंचे और घटना का जायजा लिया तथा लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। थाना सामोद, शाहपुरा, अमरसर, कालाडेरा, शाहपुरा आरएसी, जयपुर पुलिस लाइन से जाब्ता बुला लिया गया।

कुशलपुरा टोल पर हुई घटना दुर्भाग्यपूर्ण

ग्राम कुशलपुरा टोल पर हुई घटना को विधायक रामलाल शर्मा ने दुर्भाग्य पूर्ण बताया। कहा कि राज्य सरकार ने 1 अप्रैल से निजी वाहनों को संपूर्ण प्रदेश में टोल मुक्त कर दिया, लेकिन कई नेता चुनाव नजदीक होने के कारण अपनी नेतागिरी चमकाना चाहते हैं। हमने पूर्व में ही किसानों की भूमि अवाप्त करने पर रोक लगा दी थी। कोई मुद्दा नहीं होने के बावजूद कई नेता अपनी जमीन तैयार करने के लिए जनता को उकसाने का काम कर रहे हैं। हमने भी कई बार वार्ता का प्रयास किया कि यदि वाजिब मांग होगी तो उनका समाधान हम जरूर करेंगे, लेकिन नेताओं की हठधर्मिता के कारण वार्ता आगे नहीं बढ़ पाई। वहीं गोविंदगढ़ प्रधान लालचंद सेरावत ने कहा कि चौमू चंदवाजी टोल पर निर्दोष स्थानीय जनता के साथ पुलिस ने बर्बर पूर्ण कार्रवाई की है और करीब दो दर्जन निर्दोष लोगों को गिरफ्तार किया गया। निर्दोष लोगों के साथ लाठी चार्ज व आंसू गैस के गोले छोड़े गए। इससे एक व्यक्ति गंभीर घायल हो गया। पुलिस की इस तरह की कार्रवाई की निंदा कर निर्दोष जनता पर झूठे मुकदमे दर्ज नहीं करने की अपील की।

इनको लिया हिरासत में
सामोद पुलिस ने बताया कि मामले को लेकर पुलिस ने किसान नेता अमराराम, ओमप्रकाश जाट, रामनारायण माली, भंवर प्रजापत, सुरेश जाट, राजेंद्र जाट, बाबूलाल जाट, सुभाष जाट, विजय कुमार, प्रभुदयाल, रामलाल शर्मा, रमेश जाट, शंकरलाल हरियाणा ब्राह्मण, संतोष जाट, रामनिवास जाट, शशिकांत जाट को हिरासत में लिया। सामोद थानाधिकारी भूपेंद्र सिंह फौजदार ने बताया कि अमराराम सहित सभी 16 आरोपियों को देर शाम न्यायालय में पेश किया, जहां से सभी को छोड़ दिया गया।

आंसू गैस का गोला गिरने से घायल बाबूलाल। आंसू गैस का गोला गिरने से घायल बाबूलाल।
X
ग्रामीणाें को खदेड़ती पुलिस।ग्रामीणाें को खदेड़ती पुलिस।
आंसू गैस का गोला गिरने से घायल बाबूलाल।आंसू गैस का गोला गिरने से घायल बाबूलाल।
Click to listen..