--Advertisement--

सुपर स्पेशियलिटी सेंटर प्लान मंजूर, डीएम-एमसीएच की सीटें भी बढ़ेंगी

एसएमएस में प्रस्तावित सुपर स्पेशियलिटी सेंटर और आॅर्गन ट्रांसप्लांट सेंटर से मेडिकल स्टूडेंट्स को भी बड़ी सौगात मिलेगी।

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2017, 06:03 AM IST
Super Specialty Center Plan Approved

जयपुर. मुख्यमंत्री की पहल पर एसएमएस में प्रस्तावित सुपर स्पेशियलिटी सेंटर और आॅर्गन ट्रांसप्लांट सेंटर से मेडिकल स्टूडेंट्स को भी बड़ी सौगात मिलेगी। सेंटर से न सिर्फ मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलेगी, बल्कि एसएमएस में सुपर स्पेशीलिटी विंग की सीटों में भी बढ़ोतरी होगी। फिलहाल एसएमएस में सुपर स्पेशीलिटी यानी डीएम और एमसीएच की 71 सीटें है, जो इस सेन्टर के शुरूआत के साथ ही बढ़कर 108 हो जाएगी। मेडिकल कॉलेज के चिकित्सक सुपर स्पेशीलिटी विंग में सीटों के इजाफे को एसएमएस के चिकित्सा क्षेत्र के लिए काफी बड़ा फायदा माना जा रहा है।

यूं विकसित होगा सुपर स्पेशियलिटी सेन्टर

ग्रांउड फ्लोरओपीडी-इमरजेंसी
पहली मंजिल एडमिनिस्ट्रेशन विंग
दूसरी-तीसरी मंजिलयूरोलॉजी विंग
चौथी-पांचवीं मंजिल गेस्ट्रो विंग
छठी-सातवीं मंजिल नेफ्रो विंग

कार्डियोलॉजी में बढ़ेगी सर्वाधिक सीटें
सेंटर की शुरुआत से एसएमएस मेडिकल कॉलेज में सुपर स्पेशीलिटी की सीटों में 50% का इजाफा होगा। कॉलेज प्रशासन की माने तो सर्वाधिक 11 सीटें कार्डियोलॉजी में बढ़ेगी। साथ ही यूरोलॉजी में 3, नेफ्रोलॉजी में 3, गेस्ट्रोलॉजी में 7, न्यूरोसर्जरी में 9 व गेस्ट्रोएंट्रोलॉजी में 4 सीटें बढ़ेंगी।

जल्द हो सकता है शिलान्यास
एसएमएस के ट्रोमा सेन्टर के पास बंगला नंबर 09 और 10 में सुपर स्पेशीलिटी सेंटर और आर्गन ट्रांसप्लांट सेंटर का काम जल्द ही धरातल पर शुरू होने जा रहा है। कॉलेज प्रशासन ने दो दिन पहले ही इस सेन्टर के बिल्डिंग प्लान पर मुहर लगा दी है। यानी यह तय कर दिया है कि सेन्टर में किस फ्लोर पर कौन-कौन सी सुपर स्पेशीलिटी को विकसित किया जाएगा। प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत करीब दो सौ करोड़ की लागत से ये सेन्टर तैयार किया जाएगा। इसमें केन्द्र सरकार जहां 120 करोड़ रुपए खर्च करेगी, वही राज्य सरकार 80 करोड़ देगी।

सुपर स्पेशियलिटी सेंटर और आर्गन ट्रांसप्लांट सेंटर के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई है। संभवत इस माह या अगले माह सेन्टर का शिलान्यास किया जाएगा। सेन्टर के विकसित होने से मेडिकल कॉलेज में सुपर स्पेशीलिटी की सीटों में इजाफा होगा, जिससे प्रदेश को अधिक से अधिक एक्सपर्ट चिकित्सक मिलेंगे।
-डॉ. यूएस अग्रवाल, प्राचार्य, एसएमएस

X
Super Specialty Center Plan Approved
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..