Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Tantric Reached The Soul To Carrying From Hospital

महिला की मौत के बाद आत्मा लेने पहुंच गए तांत्रिक, देखें फिर क्या हुआ

आत्मा को ले जाने के नाम पर तांत्रिक भाले लेकर आधे घंटे तक मचाते रहे उत्पात।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 28, 2018, 10:50 AM IST

  • महिला की मौत के बाद आत्मा लेने पहुंच गए तांत्रिक, देखें फिर क्या हुआ
    +1और स्लाइड देखें
    अस्पताल में हंगामे के बाद टूटे कांच।

    चित्तौड़गढ़ (उदयपुर). तांत्रिक की धरपकड़ और जागरूकता के बावजूद लोग अपने अंधविश्वासी रवैयों से बाज नहीं आ रहे। ऐसा की एक वाक्या चित्तौड़गढ़ जिले के बेंगू कस्बे के अस्पताल (सीएचसी) में देखने मिला जिसमें ये तांत्रिक डिलीवरी के दौरान हुई एक महिला की मौत के बाद उसकी आत्मा लेने आ पहुंचे। वे करीब आधा घंटे तक अस्पताल में ढोल बजाते रहे। भाले घुमाते रहे, लेकिन उन्हें किसी ने नहीं रोका-टोका। अस्पताल स्टाफ भी चुप बना रहा। महिला तांत्रिक ने तोड़ दिया था कांच...

    - एक महिला तांत्रिक किलकारियां करते हुए सीधे डिलीवरी रूम पहुंची और हाथ डाॅक्टर की टेबल पर पटका तो उसका कांच टूटकर नीचे गिर गया।

    - अस्पताल में करीब आधे घंटे यह धमाल चलता रहा, साथ आए लोग भी सहम गए थे।

    - एक महिला किलकारियां करते हुए सीधे डिलिवरी रूम पहुंच गई। स्टाफ भय और परंपरा के नाम से कुछ नहीं बोला।

    पहली बार नहीं हुआ ऐसा

    - इस अस्पताल में आत्मा को ले जाने के नाम पर ऐसा धमाल पहली बार नहीं हुआ।

    - दबे स्वर स्टाफ खुद मानता है कि ऐसा कई बार होता है। साल के कुछ खास दिनों या महीनों में। आज तक इस ओर ध्यान नहीं दिया गया।

    स्टाफ के विरुद्ध कार्रवाई होगी

    - अस्पताल में तांत्रिकों का क्या काम। मैंने कर्मचारियों को ऐसा अंधविश्वास फैलाने वाले लोगों का प्रवेश बंद करने के आदेश दे रखे है। डयूटी स्टाफ के विरुद्ध कार्रवाई होगी।- डाॅ. जीआर भुकल, सीएचसी प्रभारी, बेगूं।

  • महिला की मौत के बाद आत्मा लेने पहुंच गए तांत्रिक, देखें फिर क्या हुआ
    +1और स्लाइड देखें
    हॉस्पिटल में महिला तांत्रिक ढोल बजाते हुए।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×