Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» There Is No Clue To The Robbers Who Came To Rob Axis Bank

बैंक लूटने आए 13 बदमाश जिस रास्ते भागे वहां 250 कैमरे, 60 घंटे बाद भी कोई सुराग नहीं

पुलिस और बैंक अफसरों की मीटिंग, हर ब्रांच में लगेंगे हाईक्वालिटी कैमरे

Bhaskar News | Last Modified - Feb 08, 2018, 06:20 AM IST

  • बैंक लूटने आए 13 बदमाश जिस रास्ते भागे वहां 250 कैमरे, 60 घंटे बाद भी कोई सुराग नहीं
    +1और स्लाइड देखें

    जयपुर. सी-स्कीम रमेश मार्ग पर एक्सिस बैंक में 926 करोड़ रुपए की डकैती का प्रयास करने वाले 13 बदमाशों का जयपुर कमिश्नरेट की पुलिस 24 घंटे बाद भी सुराग नहीं लगा पाई। पुलिस ने सिविल लाइन, सोढ़ाला, बाईस गोदाम, सरदार पटेल मार्ग, कलेक्ट्रेट व अशोक नगर इलाके में लगे करीब 250 सीसीटीवी कैमरे खंगाल लिए है, लेकिन आरोपियों का पता नहीं चला कि वह इनोवा कार में कौन से रास्ते से आए थे और फिर कहां गायब हो गए।

    - आरोपियों की इनोवा कार अंतिम बार 2:45 बजे के करीब कलेक्ट्रेट सर्किल पर लगे सीसीटीवी कैमरे की रिकॉर्डिंग में आई है।

    - अब पुलिस आरोपियों को ढूंढने के लिए तकनीकी का सहारा ले रही है। जयपुर कमिश्नरेट व डीसीपी साउथ पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए अलग-अलग छह टीमें बनाई है।

    - पुलिस द्वारा तैयार किए गए बदमाशों के फोटो के एलबम को पहचान के लिए बैंक के सुरक्षाकर्मी प्रमोद कुमार व डकैती की वारदात को रोकने वाले कांस्टेबल सीताराम को दिखाया जाएगा।

    - एडिशनल पुलिस कमिश्नर प्रफुल्ल कुमार ने बताया कि आरोपियों ने पहले रैकी की थी। उनको पहले से नाकाबंदी पॉइंट की जानकारी थी। जहां पर नाकाबंदी चल रही थी, वहां से इनोवा कार घटना की रात को नहीं गुजरी है। आरोपियों ने बैंक तक आने व वापस भागने के लिए मुख्य मार्गों का चयन नहीं किया था।

    कांस्टेबल सीताराम की मुस्तैदी से डकैती की वारदात होने से बच गई थी

    - गौरतलब है कि सोमवार रात 2:30 बजे के करीब रमेश मार्ग स्थित एक्सिस बैंक की चेस्ट ब्रांच में डकैती की वारदात को अंजाम देने के लिए इनोवा कार से 13 हथियारबंद नकाबपोश बदमाश आए थे।

    -आरोपियों ने बैंक के गार्ड प्रमोद कुमार को पिस्तौल की नौंक पर बंधक बनाने के बाद डकैती की वारदात को अंजाम देने के लिए बैंक का चैनल गेट खोल लिया था। इसकी भनक बैंक में मौजूद कांस्टेबल सीताराम को लगी तो उसने फायरिंग कर दी थी। फायरिंग के बाद बदमाश बैंक के दीवार फांदकर वापस भाग गए थे। तब कांस्टेबल सीताराम ने पुलिस को सूचना दी थी। सूचना पर अशोक नगर थाना पुलिस व आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे। लेकिन आरोपियों का अभी तक सुराग नहीं लगा।

    बैंकों को आरबीआई की सुरक्षा गाइडलाइन फॉलो करने के निर्देश कमिश्नर ने दिए

    - वारदात के प्रयास के बाद पुलिस कमिश्नर संजय अग्रवाल ने बुधवार को आरबीआई, पब्लिक सेक्टर बैंक व प्राइवेट बैंक और गोल्ड लोन कंपनी के अफसरों के साथ बैठक की।

    - कमिश्नर ने सभी को आरबीअाई की गाइड लाइन फॉलो करने को कहा। बैंक में अलार्म व हॉट लाइन की व्यवस्था की जाए और हर माह बैंकों का निरीक्षण किया जाए।

    - बैंक स्टाफ को सुरक्षा संबंधित प्रशिक्षण दिया जाए और केश लाने व ले जाने के दौरान मॉक ड्रिल करके सुरक्षा व्यवस्था देखी जाए। बैठक में अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर प्रफुल्ल कुमार ने बैंक में उच्च क्वालिटी के हाईटेक सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश दिए।

  • बैंक लूटने आए 13 बदमाश जिस रास्ते भागे वहां 250 कैमरे, 60 घंटे बाद भी कोई सुराग नहीं
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×