Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» This Cloth Famous In Abroad

विदेशों में भी फेमस है यहां बना हुआ कपड़ा, रोजाना होती है 2 लाख मीटर कपड़े की छपाई

यहां बनने वाले कपड़े की दुनिया भर में डिमांड हैं।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 01, 2018, 07:50 AM IST

  • विदेशों में भी फेमस है यहां बना हुआ कपड़ा, रोजाना होती है 2 लाख मीटर कपड़े की छपाई
    कपड़ों पर बिखरे इन चटख रंगों से देशभर में फेमस है पाली ।

    पाली(जयपुर).पाली में ऐसा संयोग होता है कि यहां की तासीर में सालभर ही रंग दिखाई देते हैं। कारण है यहां पर मौजूद कपड़ा उद्योग। यहां के कपड़ा कारोबार पर टिका पाली का बाजार ही यहां के बाजार को भी नई उमंग देता है। बता दें कि यहां पर छोटी-बड़ी 800 फैक्ट्रियां हैं जिनमें रोज 50 करोड़ का कारोबार, होता है। 200 तरह के रंग में रंगते हैं कपड़े...

    - शहर की रंगाई-छपाई की फैक्ट्रियों में कपड़ों पर चढ़ने वाले चटख रंग की खासियत यह है कि देश-विदेश में पाली के कपड़ों की मांग बरकरार रहती है।
    - कपड़ा उद्योग में पूरे देश में कई नए रंग बनाकर पाली देशभर में रंगाई-छपाई उद्योग का ब्रांड एंबेसडर बन गया है।
    - अनुमान के अनुसार प्रतिदिन पाली में 2 लाख मीटर से ज्यादा कपड़ा रंगाई के बाद बाजार में बिकने को तैयार होता है।
    - यह कारोबार लगभग 50 करोड़ का होता है।

    कपड़ों पर बिखरे इन चटख रंगों से देशभर में खिलता है पाली


    - मारवाड़ी आन-बान व शान के प्रतीक साफे से लेकर सलवार सूट और साड़ियों की देश में मांग पाली का पॉपलीन हो या अन्य कपड़ा, देशभर में ख्यात है।
    - यहां मारवाड़ी-मेवाड़ी साफा हो या पंजाबी पगड़ी। अपने चटख रंगों के लिए फेमस है।
    - मार्केट में बनने वाली लूंगी की भारत सहित दुनियाभर में डिमांड है।
    - उत्तर व दक्षिण भारत में तो यहां की साड़ियों से ही महिलाएं हर मांगलिक व धार्मिक कार्यक्रमों में सजती है।
    - पंजाब, हरियाणा व उत्तरप्रदेश में यहां बनने वाले सूती सलवार सूट की मांग 12 महीने ही रहती है।
    - बैडशीट, स्कार्फ व सूती टॉवेल भी देशभर में पाली का ब्रांड अपनी विशेष छवि रखता है।

    20 हजार परिवारों के जीवन में उल्लास के रंग कपड़े से

    - फैक्ट्रियों में कुल 20 हजार से अधिक लोग कार्यरत हैं।
    - यानी हर 5 वें घर से एक आदमी इस इस उद्योग से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से जुड़ा है।
    - यही रुपया शहर के बाजार में घूमता है। इससे पूरे बाजार में खुशियों के रंग निखरते हैं।

Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jaipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: This Cloth Famous In Abroad
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×