--Advertisement--

टायर फटा तो 8 बार पलटी कार, खिड़कियों से बाहर गिरेे और टायरों के नीचे आते रहे लोग

भरतपुर में भर्ती रिश्तेदार से मिलने आ रहे थे 12 लोग, 3 बहन व व एक भाई सहित छह की मौत।

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2018, 11:39 PM IST
दुर्घटनाग्रस्त गाड़ी के नीचे फंसा मृतक। ऊपर की ओर  बबीता (संजय की भाभी और पुष्पेंद्र की पत्नी) और नीचे की तस्वीर में नरगिस (संजय की गर्भवती पत्नी) । दुर्घटनाग्रस्त गाड़ी के नीचे फंसा मृतक। ऊपर की ओर बबीता (संजय की भाभी और पुष्पेंद्र की पत्नी) और नीचे की तस्वीर में नरगिस (संजय की गर्भवती पत्नी) ।

बयाना/भरतपुर. राजस्थान के बयाना-भरतपुर मेगा हाईवे पर निर्माण गांव के पास टायर फटने से जाइलो कार पलट गई। 90 की स्पीड में गाड़ी 150 मीटर तक आठ बार पलटी। इसमें छह लोगों की मौत हो गई। एक महिला सहित चार लोग घायल हो गए। गाड़ी में 12 लोग थे। जो भरतपुर के आरबीएम में भर्ती बयाना निवासी संजय जाटव से मिलने आ रहे थे। मृतकों में संजय की गर्भवती पत्नी, भाभी, साली, साला, मामा ससुर और दोस्त राजकपूर शामिल हैं। 14 साल का भतीजा कोमा में है। हादसा इतना दर्दनाक था कि लोग गाड़ी पलटने के दौरान ही खिड़कियों से निकलकर बाहर गिरते रहे और टायरों के नीचे आते रहे।

- घायलों ने बताया कि गाड़ी को उनका ही रिश्तेदार तेज गति से चला रहा था। उसे मना भी किया था, लेकिन बोला चिंता मत करो। इतने में ही हादसा हो गया। हादसे के बाद ड्राइवर नंदू का कोई पता नहीं है।

- उसके ससुर भगवान सिंह निवासी जाटव बस्ती हिंडौन सिटी दामाद को देखने के लिए मामा की गाड़ी लेकर सुबह 10 बजे बयाना के लिए रवाना हुआ।

- बयाना से दामाद के परिजनों को साथ ले लिया। निर्माण गांव के पास गाड़ी का टायर फट गया। इससे गाड़ी करीब 150 मीटर में 8 बार पलटी।

- इसमें संजय की गर्भवती पत्नी नरगिस (25), भाभी बबीता पत्नी पुष्पेंद्र जाटव (28), साली जूली पुत्री पप्पूराम जाट (20), साला मंजीत (30) और मामा ससुर रामफल पुत्र धनफूल जाटव निवासी हिंडौन सिटी (47) की मौके पर ही मौत हो गई।

- संजय के दोस्त राजकपूर (26) निवासी बयाना को भरतपुर रैफर किया। उसने आरबीएम में दम तोड़ दिया। संजय का भतीजा सहवाग (14) कोमा में है।

- उसका साला शैलेंद्र और साहिल पुत्र पप्पूराम जाटव को बयाना सीएचसी में भर्ती कराया गया, जहां से साहिल को भरतपुर रैफर कर दिया। सास विमला (45) को गंभीर व ससुर पप्पूराम को मामूली चोटें आई है।

#राजकपूर बस से जा रहा था पर परिजनों ने गाड़ी में बुला लिया
- बयाना के जाटव बस्ती निवासी राजकपूर पुत्र देवीसिंह जाटव निजी स्कूल में शिक्षक है। वह संजय का बहुत अच्छा दोस्त है और घर में इकलौता था।

- मां ने सुबह उसके जाने से पहले आज मकर संक्रांति पर कहीं भी जाने से मना किया था, लेकिन सोमवार को स्कूल में ड्यूटी होने की बात कहकर रविवार को ही जाने की जिद की। पौने 10 बजे प्राइवेट बस से भरतपुर जाने के लिए बैठ गया था, लेकिन अचानक संजय के परिजनों ने ही फोन कर उसे गाड़ी में बैठा साथ ले गए।

बबीता (पुष्पेंद्र की पत्नी) । बबीता (पुष्पेंद्र की पत्नी) ।

ड्राइवर ने सीट बेल्ट बांध रखी थी, उसे खरोंच तक नहीं आई 
- गाड़ी में 12 लोग सवार थे। उनमें से पप्पूराम को हल्की चोटें आई हैं। जबकि पप्पूराम के मामा का लड़का नंदू कार चला रहा था। नंदू ने हिंडौन से चलने से पहले ही सीट बेल्ट लगा ली थी, इसलिए उसे खरोंच तक नहीं आई। हादसे के बाद वह फरार हो गया।

- घटना की सूचना पाकर विधायक बच्चू सिंह बंशीवाल, एडीएम प्रशासन ओपी जैन, एएसपी एडीएफ प्रकाशचंद शर्मा, सीओ बयाना हिमांशु शर्मा और एसएचओ खलील अहमद मौके पर पहुंचे। 

पुष्पेंद्र की पत्नी नरगिस। पुष्पेंद्र की पत्नी नरगिस।
जूली,  उम्र 20 वर्ष  संजय की साली व पप्पूराम की बेटी। जूली, उम्र 20 वर्ष संजय की साली व पप्पूराम की बेटी।

जिस बेटी का रिश्ता ढूंढ रहा था वो नहीं रही, एक साथ तीन बेटियां खोई 
- हिंडौन के जाटव मोहल्ला निवासी भगवान सिंह उर्फ पप्पूराम बेसुध सा हो गया है। रो भी नहीं पा रहा है। सिर्फ मुंह से बार-बार एक ही शब्द जुबां पर आता है कि जूली बिटिया की शादी बड़े ही धूमधाम से करूंगा। वे दोनों तो मेरा साथ छोड़ गई पर जूली तुझे कुछ नहीं होने दूंगा, लेकिन हकीकत यह है कि तीन बेटी और एक बेटे की मौत से भगवान सिंह निशब्द सा हो चुका है।

- हादसे में बड़ी बेटी बबीता, नरगिस व जूली के साथ पुत्र मंजीत, मामा रामफल की मौत हुई है। वह पिछले कुछ समय से जूली की शादी के लिए लड़का देख रहा था। 

आंखों देखी : साहिल बोला- मैं सो रहा था, धमाका हुआ और सबकुछ खत्म हो गया आंखों देखी : साहिल बोला- मैं सो रहा था, धमाका हुआ और सबकुछ खत्म हो गया

- हादसे में घायल साहिल पुत्र पप्पूराम निवासी जाटव बस्ती खारा कुआ हिंडौन को बयाना के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से रैफर करने के बाद आरबीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी हालत में सुधार हो रहा है।

 

- साहिल से जब हादसे के बारे में पूछा तो वह बार-बार कहता रहा कि बबीता दीदी कैसी है ? लेकिन उसे किसी ने कुछ भी नहीं बताया।

 

- उसने बताया कि बयाना से निकलने के बाद मुझे नींद आ रही थी। इसलिए गाड़ी में बैठे-बैठे ही सो गया, लेकिन अचानक तेज धमाके की आवाज के साथ नींद टूटी तो गाड़ी लहलहा रही थी। उससे पहले भी गाड़ी करीब 90 की स्पीड पर थी। जो कि इतनी ज्यादा भी तेज नहीं है। लेकिन हमने धीरे चलाने को भी कहा था, लेकिन हमारा तो सबकुछ खत्म हो गया। अब कौन मेरे हाथ पर राखी बांधेगा। 

राजकुमार की मां मोहनदेई विलाप करते हुए। संजय का दोस्त था राजकुमार, जो निजी स्कूल में शिक्षक था। राजकुमार की मां मोहनदेई विलाप करते हुए। संजय का दोस्त था राजकुमार, जो निजी स्कूल में शिक्षक था।
मृतक महिलाओं के बच्चे सचिन और श्रुति। मृतक महिलाओं के बच्चे सचिन और श्रुति।

सचिन और श्रुति पूछते रहे अम्मा, मां कब आएगी 


- पुष्पेंद्र और संजय दोनों भाइयों की पत्नियों की मौत हादसे में हो गई।

-पुष्पेंद्र के तीन बच्चे हैं। एक गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती है। जबकि सचिन और श्रुति बार-बार दादी अंगूरी देवी से पूछते रहे कि अम्मा मां कब आएगी। उसके साथ ही पकौड़े खाएंगे, लेकिन बच्चों को बताया गया कि उनकी मां अब इस दुनिया में नहीं हैं।

रोते बिलखते परिजन। रोते बिलखते परिजन।
six family members died in car overturn accident near bayana bharatapur
भरतपुर में भर्ती रिश्तेदार से मिलने आ रहे थे 12 लोग, 3 बहन व व एक भाई सहित छह की मौत भरतपुर में भर्ती रिश्तेदार से मिलने आ रहे थे 12 लोग, 3 बहन व व एक भाई सहित छह की मौत

टायर फटने से 9 माह में छह हादसे, 13 लोगों की मौत 
- 11 अप्रैल को डीग में बहज के पास टायर फटने से कार पलटी, 4 घायल। 
- 23 मई 2017 को लुधावई कार का टायर फटने से एक की मौत 
- 2 जून 2017 को बाड़ी में टवेरा का टायर फटने से एक महिला की मौत 
- 2 अक्टूबर को मनियां में टायर फटने से ट्रक पलटा, तीन की मौत 
- 5 दिसंबर को विश्नोंदा के पास स्कार्पियों का टायर फटा, एक की मौत 
- 14 जनवरी बयाना के पास टायर फटने से 6 लोगों की मौत 

मोर्चुरी से शव ले जाते परिजन। मोर्चुरी से शव ले जाते परिजन।
X
दुर्घटनाग्रस्त गाड़ी के नीचे फंसा मृतक। ऊपर की ओर  बबीता (संजय की भाभी और पुष्पेंद्र की पत्नी) और नीचे की तस्वीर में नरगिस (संजय की गर्भवती पत्नी) ।दुर्घटनाग्रस्त गाड़ी के नीचे फंसा मृतक। ऊपर की ओर बबीता (संजय की भाभी और पुष्पेंद्र की पत्नी) और नीचे की तस्वीर में नरगिस (संजय की गर्भवती पत्नी) ।
बबीता (पुष्पेंद्र की पत्नी) ।बबीता (पुष्पेंद्र की पत्नी) ।
पुष्पेंद्र की पत्नी नरगिस।पुष्पेंद्र की पत्नी नरगिस।
जूली,  उम्र 20 वर्ष  संजय की साली व पप्पूराम की बेटी।जूली, उम्र 20 वर्ष संजय की साली व पप्पूराम की बेटी।
आंखों देखी : साहिल बोला- मैं सो रहा था, धमाका हुआ और सबकुछ खत्म हो गयाआंखों देखी : साहिल बोला- मैं सो रहा था, धमाका हुआ और सबकुछ खत्म हो गया
राजकुमार की मां मोहनदेई विलाप करते हुए। संजय का दोस्त था राजकुमार, जो निजी स्कूल में शिक्षक था।राजकुमार की मां मोहनदेई विलाप करते हुए। संजय का दोस्त था राजकुमार, जो निजी स्कूल में शिक्षक था।
मृतक महिलाओं के बच्चे सचिन और श्रुति।मृतक महिलाओं के बच्चे सचिन और श्रुति।
रोते बिलखते परिजन।रोते बिलखते परिजन।
six family members died in car overturn accident near bayana bharatapur
भरतपुर में भर्ती रिश्तेदार से मिलने आ रहे थे 12 लोग, 3 बहन व व एक भाई सहित छह की मौतभरतपुर में भर्ती रिश्तेदार से मिलने आ रहे थे 12 लोग, 3 बहन व व एक भाई सहित छह की मौत
मोर्चुरी से शव ले जाते परिजन।मोर्चुरी से शव ले जाते परिजन।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..