जयपुर

--Advertisement--

OLX पर 8 लाख की कार 4 लाख में बेचने का था ऐड, खरीदार से लूटे 2 लाख रुपए

भरतपुर पुलिस लंबे समय से जगह-जगह चेतावनी बोर्ड लगा कर रही है ठगों से बचने का आह्वान, फिर भी नहीं थम रही वारदातें

Danik Bhaskar

Feb 07, 2018, 07:55 AM IST

भरतपुर/जोधपुर. तकरीबन आठ लाख रुपए कीमत की कार OLX पर चार लाख रुपए में बेचने का विज्ञापन दिखा, तो गुढ़ा विश्नोइयान निवासी एक शख्स खुद को रोक नहीं पाया। विज्ञापन देने वाले से फोन पर बात की, तो सौदा दो लाख रुपए में तय भी कर लिया। खरीदार बनकर जब वो भरतपुर के पहाड़ी कस्बे में पहुंचा, तो वहां उसे पिस्टल दिखा दो लाख के साथ-साथ जेब में किराए भाड़े के रूप में रखे चार सौ रुपए व मोबाइल भी लूट लिया। सोमवार को हुई इस वारदात के संबंध में गोपालगढ़ थाने में केस दर्ज किया गया है।


- जानकारी के अनुसार, गुढ़ा विश्नोइयान निवासी किशनाराम पुत्र पेमाराम ने ओएलएक्स पर एक विज्ञापन देखा, जिसमें नई स्विफ्ट कार चार लाख रुपए में बेची जा रही थी। करीब आठ लाख रुपए कीमत की कार चार लाख में बिकते देख किशनाराम ने ओएलएक्स पर विज्ञापन देने वाले के मोबाइल पर संपर्क किया। आपसी बातचीत में मोलभाव किया, तो विज्ञापन देने वाला दो लाख रुपए में कार देने को राजी हो गया।

- इस पर रविवार दोपहर के समय किशनाराम उसके बताए पते पर मेवात में पहाड़ी कस्बे के बस स्टैंड पर पहुंचा। वहां एक बोलेरो में सवार पांच जने उसे अपने साथ बिठाकर ले गए। वहां से बदमाश उसे सुनसान इलाके में ले गए और पिस्टल दिखाकर उसके पास रखे दो लाख रुपए, मोबाइल और जेब में किराए-भाड़े के लिए रखे 400 रुपए भी लूट लिए।

- मारपीट के बाद वे उसे गोपालगढ़ थाना क्षेत्र के पिलसू गांव के जंगलों में छोड़ भाग गए। बाद में किसनाराम ग्रामीणों की मदद से पहाड़ी थाने पहुंचा। वहां कई घंटों तक पहाड़ी थाना और गोपालगढ़ थाना के बीच सीमा को लेकर विवाद चलता रहा, लेकिन बाद में पुलिस अधीक्षक की दखल पर गोपालगढ़ थाने में केस दर्ज कराया।

- वहीं भरतपुर पुलिस ने ओएलएक्स कंपनी को एक बार फिर बिना स्वीकृति ऐसे विज्ञापन नहीं लगाने के लिए पत्र भेजा है। घटना के दो दिन बाद भी आरोपियों की पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस बदमाशों को पकड़ने के लिए संदिग्ध ठिकानों पर दबिश दे रही है।

ठगी व लूट की वारदातों के लिए कुख्यात है मेवात इलाका, पुलिस ने चेतावनी बोर्ड भी लगाए
- महज तीन महीने में ही भरतपुर पुलिस ने ठगी और लूट की सौ से ज्यादा वारदातों को देखते हुए जिले के विभिन्न इलाकों यूपी-हरियाणा व राजस्थान के बॉर्डर, शहरी व हाईवे तथा बस स्टैंड व सार्वजनिक स्थानों पर चेतावनी बोर्ड तक लगवा चुकी है।

- बोर्ड पर लिखा है कि ओएलएक्स पर वाहन बेचने, सीसीटीवी कैमरा, सोने की ईंट, गिन्नी बेचने वाले ठगों से या जस्ट डायल से संपर्क करने या अन्य तरीकों से जालसाजी, धोखाधड़ी करने वालों से सावधान रहें।

- पुलिस के अनुसार भरतपुर जिले के कामां पुलिस सर्किल जिसे मेवात के नाम से जाना जाता है, वहां कोई बुलाता है, तो भूलकर भी नहीं जाएं। ज्यादा जरूरी हो तो पुलिस को सूचना देकर पुष्टि करने के बाद ही उस क्षेत्र में जाएं।

Click to listen..