--Advertisement--

किराएदार के साथ अवैध संबंध की खुली पोल, पति की हत्या कर शव पहाड़ों में दबाया

जलमहल की पाल के पास मिला नरमुंड...पत्नी ही निकली हत्यारी

Dainik Bhaskar

Jan 28, 2018, 04:15 AM IST
सांकेतिक तस्वीर। सांकेतिक तस्वीर।

जयपुर. जलमहल की पाल के पास पहाड़ियों पर शुक्रवा को नरमुंड मिला। लोगों की सूचना पर जब पुलिस मौके पर पहुंची और नरमुंड की शिनाख्त की गई तो पता चला कि इस व्यक्ति, 40 वर्षीय तेजप्रकाश की तो गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज है। रिपोर्ट दर्ज करवाने वाले मृतक के भाई हरीश ने जिन लोगों पर संदेह जताया था, अब उनसे सख्ती से पूछताछ की गई।

- मामला खुला कि मकर संक्रांति को ही तेजप्रकाश की पत्नी ने अपने भाई और किरायेदार के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी थी और शव जलमहल की पहाड़ियों में दबा दिया था।

- इस कारण तेजप्रकाश को पत्नी के किरायेदार से अवैध संबंधों का पता चल गया था। हत्या में शामिल पत्नी का भाई तो पुलिस की गिरफ्त में आ गया है, मगर पत्नी और उसका प्रेमी फरार हैं।

- मृतक तेजप्रकाश बदनपुरा की गणेश कॉलोनी का रहने वाला था। शुक्रवार को जलमहल के निकट पहाड़ियों पर मिले नरमुंडी की पहचान जब तेजप्रकाश के रूप में हुई तो पुलिस ने मौके पर उसके भाई हरीश को बुलाया।

- डीसीपी सत्येन्द्र सिंह ने बताया कि हरीश ने खुलासा किया कि उसका भाई तो मकर संक्रांति के दिन से ही गायब है। उसी दिन से तेजप्रकाश की पत्नी सीमा, उसका भाई श्रीकांत और उनका किरायेदार अभिषेक भी गायब हैं। हरीश ने आशंका जताई कि इन तीनों ने ही तेजप्रकाश की हत्या की है।

श्रीकांत से पूछताछ में खुला राज
- पुलिस तेजप्रकाश की पत्नी सीमा के भाई श्रीकांत को पकड़कर थाने पर लाई और सख्ती से पूछताछ की। पूछताछ में श्रीकांत ने जुर्म कुबूल कर लिया।

- उसने बताया कि हत्या के बाद तीनों ने तेजप्रकाश का शव जलमहल के पास पहाड़ियों में दबा दिया था। संभवत: जानवरों ने शव को नोचा और इसी क्रम में नरमुंड जलमहल की पाल के पास छोड़ गए।


पतंगबाजी देखने गए थे तेजप्रकाश को लेकर
- पुलिस की जांच में सामने आया कि अभिषेक तेजप्रकाश के घर पर किराये पर रहता था। अभिषेक के तेजप्रकाश की पत्नी सीमा के साथ अवैध संबंध थे।

- इसकी भनक तेजप्रकाश को लग गई थी। ऐसे में घर पर रोजाना झगड़े होते थे। ऐसे में सीमा ने अभिषेक व अपने भाई श्रीकांत से मिलकर तेजप्रकाश की हत्या करने की योजना बनाई।

- संक्रांति के दिन अभिषेक व श्रीकांत पतंगबाजी देखने के लिए तेजप्रकाश को अपने साथ जलमहल की तरफ ले गए। जहां पर पहाड़ी पर दोनों ने तेजप्रकाश की गमछे से पहले गला घोंटकर हत्या कर दी और उसके बाद शव को पत्थरों से मार-मार कर कुचल दिया। इसके बाद दोनों आरोपी शव का पत्थरों को नीचे दबाकर आ गए और घर से गायब हो गए।

सांकेतिक तस्वीर। सांकेतिक तस्वीर।
X
सांकेतिक तस्वीर।सांकेतिक तस्वीर।
सांकेतिक तस्वीर।सांकेतिक तस्वीर।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..