--Advertisement--

एससी-एसटी एक्ट में बदलाव के खिलाफ भारत बंद आज

नई दिल्ली/जयपुर | एससी-एसटी एक्ट में दर्ज मामलों में तत्काल गिरफ्तारी पर रोक संबंधी सुप्रीम कोर्ट के फैसले के...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:35 AM IST
नई दिल्ली/जयपुर | एससी-एसटी एक्ट में दर्ज मामलों में तत्काल गिरफ्तारी पर रोक संबंधी सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरोध में दलित संगठनों ने सोमवार को भारत बंद का ऐलान किया है। केंद्र सरकार भी सोमवार को फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में रिव्यू पिटिशन लगाएगी। प्रदेश में बंद के लिए मीन सेना, युवा जाट महासभा, भीम आर्मी, भीम सेना सहित कई संगठन उतरेंगे।



शेष | पेज 6

मीन सेना के प्रदेशाध्यक्ष पंकज मीणा ने बताया कि जयपुर में सुबह 9 बजे जगतपुरा में कार्यकर्ता एकत्रित होंगे और वहां से बाजार बंद कराते हुए कलेक्ट्रेट सर्किल तक पहुंचेंगे। सियासी संगठन भी फैसले के विरोध में हैं। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट सहित कांग्रेस आरोप लगा चुकी है कि केंद्र सरकार ने सही तरीके से पैरवी नहीं की। भाजपा सांसद भी इस मसले को लेकर प्रधानमंत्री से मिल चुके हैं। संसदीय कार्यमंत्री राजेंद्र राठौड़ ने राष्ट्रपति को पत्र लिखा है। सांसद किरोड़ीलाल मीणा एवं विधायक हनुमान बेनीवाल ने भी दलितों के संरक्षण की मांग उठाई है। उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट ने 20 मार्च को जारी एक आदेश में एससी-एसटी एक्ट के दुरुपयोग पर चिंता जताते हुए इसके तहत तत्काल गिरफ्तारी या आपराधिक मामला दर्ज करने पर रोक लगा दी थी। कोर्ट ने एससी-एसटी एक्ट के तहत दर्ज होने वाले केसों में अग्रिम जमानत को भी मंजूरी दे दी थी। दलित संगठन पहले दिन से ही इसका विरोध कर रहे हैं। विपक्ष सरकार पर सुप्रीम कोर्ट में सही दलीलें पेश नहीं करने का आरोप लगा रहा था। केंद्रीय मंत्रियों रामविलास पासवान और थावरचंद गहलोत के नेतृत्व में एससी-एसटी सांसदों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलकर भी विरोध दर्ज करवाया था। उल्लेखनीय है कि दलित संगठनों के भारत बंद के आह्वान के चलते पंजाब में सोमवार को स्कूल, कॉलेज, पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद रहेगा। रविवार शाम से ही इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गई हैं। कानून व्यवस्था कायम करने के लिए संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त पुलिस फोर्स भी तैनात की गई है।