• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • News
  • ठेका उठाने लिए सरकारी अस्पताल का फर्जी अनुभव प्रमाण पत्र लगाया
--Advertisement--

ठेका उठाने लिए सरकारी अस्पताल का फर्जी अनुभव प्रमाण-पत्र लगाया

News - जयपुर | हेरफेर कर पैसा कमाने के लिए एक फर्म ने एसएमएस अस्पताल में फर्जी दस्तावेज लगा कर ठेका उठाने की तैयारी कर ली।...

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 02:55 AM IST
ठेका उठाने लिए सरकारी अस्पताल का फर्जी अनुभव प्रमाण-पत्र लगाया
जयपुर | हेरफेर कर पैसा कमाने के लिए एक फर्म ने एसएमएस अस्पताल में फर्जी दस्तावेज लगा कर ठेका उठाने की तैयारी कर ली। फर्म ने लाखों रुपए की जमानत राशि भी जमा करा दी। लेकिन ठेका निकाले जाने से ऐनवक्त पहले अस्पताल प्रशासन को इसकी जानकारी हो गई और अब दस्तावेजों की जांच की जा रही है।

मामले के अनुसार एसएमएस अस्पताल में कम्प्यूटर ऑपरेटर, लैब टेक्नीशियन और लैब अटेंडेंट, हेल्पर इलेक्ट्रीशियन आदि का ठेका निकाला गया। आवेदन के लिए किसी भी फर्म को दो वर्ष का कार्यानुभव प्रमाण पत्र देना था। कई फर्मों के साथ मैसर्स छोटूलाल गुर्जर ने भी ठेका भरा, लेकिन उसने मथुरादास मथुरा हॉस्पिटल, जोधपुर के दो वर्ष का कार्यानुभव प्रमाण पत्र भी लगाया। यह दस्तावेज पूरी तरह से फर्जी निकला क्योंकि मथुरादास मथुरा हॉस्पिटल ने इस फर्म को कभी ठेका ही नहीं दिया और ना ही कोई कार्यानुभव प्रमाण पत्र। इसकी जानकारी एसएमएस अस्पताल प्रशासन को हुई तो उन्होंने इसकी जानकारी जुटाई। इस पर मथुरादास मथुरा हॉस्पिटल के अधिकारियों ने भी ऐसे कोई कार्यानुभव प्रमाण पत्र जारी नहीं करने की बात कही है। मैसर्स छोटूलाल गुर्जर ने न केवल फर्जी दस्तावेज लगाए बल्कि 32 लाख रुपए की अमानत राशि भी एसएमएस अस्पताल प्रशासन को जमा करा दी। अब अस्पताल प्रशासन आरटीपीपी एक्ट के तहत फर्म पर कार्रवाई की तैयारी में जुटा है।



X
ठेका उठाने लिए सरकारी अस्पताल का फर्जी अनुभव प्रमाण-पत्र लगाया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..