• Home
  • Rajasthan News
  • Jaipur News
  • News
  • छपाई कारखाने में मीटर से छेड़छाड़ कर बिजली चोरी, 10 लाख रु. पेनल्टी तय
--Advertisement--

छपाई कारखाने में मीटर से छेड़छाड़ कर बिजली चोरी, 10 लाख रु. पेनल्टी तय

सिटी रिपोर्टर. जयपुर | जयपुर डिस्कॉम की विजिलेंस टीम ने सांगानेर के खत्री नगर के एक ऐसे छपाई कारखाने पर छापा मारा,...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:05 AM IST
सिटी रिपोर्टर. जयपुर | जयपुर डिस्कॉम की विजिलेंस टीम ने सांगानेर के खत्री नगर के एक ऐसे छपाई कारखाने पर छापा मारा, जिसमें मीटर से छेड़छाड़ कर बिजली चोरी की जा रही थी। जयपुर डिस्कॉम विजिलेंस एईएन रवींद्र चौधरी के नेतृत्व में टीम ने बिजली चोरी का अाकलन कर कारखाने के खिलाफ 10 लाख 7 हजार 128 रुपए की पेनल्टी तय की है। सात दिन में पेनल्टी जमा नहीं कराने की स्थिति में कारखाने के मालिक के खिलाफ एफआईआर करवाई जाएगी।

एईएन रवींद्र चौधरी ने बताया कि सीता देवी के यहां बिजली सप्लाई की जांच करने वाले उपकरण में पाया गया कि 3 फेस के मीटर में जितनी बिजली खप रही थी, मीटर उतनी खपत नहीं दिखा रहा था। मीटर स्पष्ट रूप से खुला हुआ और कुछ जगह से टूटा हुआ पाया गया, जिससे स्पष्ट हो गया कि मीटर से छेड़छाड़ की गई है। ऐसे में टीम ने उपभोक्ता का कनेक्शन काटा और मीटर जब्त किया।



साथ ही विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 135 के तहत कार्यवाही कर पेनल्टी तय की।

सिटी रिपोर्टर. जयपुर | जयपुर डिस्कॉम की विजिलेंस टीम ने सांगानेर के खत्री नगर के एक ऐसे छपाई कारखाने पर छापा मारा, जिसमें मीटर से छेड़छाड़ कर बिजली चोरी की जा रही थी। जयपुर डिस्कॉम विजिलेंस एईएन रवींद्र चौधरी के नेतृत्व में टीम ने बिजली चोरी का अाकलन कर कारखाने के खिलाफ 10 लाख 7 हजार 128 रुपए की पेनल्टी तय की है। सात दिन में पेनल्टी जमा नहीं कराने की स्थिति में कारखाने के मालिक के खिलाफ एफआईआर करवाई जाएगी।

एईएन रवींद्र चौधरी ने बताया कि सीता देवी के यहां बिजली सप्लाई की जांच करने वाले उपकरण में पाया गया कि 3 फेस के मीटर में जितनी बिजली खप रही थी, मीटर उतनी खपत नहीं दिखा रहा था। मीटर स्पष्ट रूप से खुला हुआ और कुछ जगह से टूटा हुआ पाया गया, जिससे स्पष्ट हो गया कि मीटर से छेड़छाड़ की गई है। ऐसे में टीम ने उपभोक्ता का कनेक्शन काटा और मीटर जब्त किया।



साथ ही विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 135 के तहत कार्यवाही कर पेनल्टी तय की।