• Home
  • Rajasthan News
  • Jaipur News
  • News
  • जेडीए 2 साल में 10% रोड भी नहीं बना सका एनएचएआई ने सवा 2 माह में 15% काम कर दिया
--Advertisement--

जेडीए 2 साल में 10% रोड भी नहीं बना सका एनएचएआई ने सवा 2 माह में 15% काम कर दिया

बीजेपी सरकार बनने के बाद रिंग रोड के पुराने ख्वाब को साकार करने की पहल तीन साल सफलता तक सरकारी सुस्ती के रिंग में...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:25 AM IST
बीजेपी सरकार बनने के बाद रिंग रोड के पुराने ख्वाब को साकार करने की पहल तीन साल सफलता तक सरकारी सुस्ती के रिंग में फंसी रही। अब सवा दो माह पहले एनएचएआई ने एक साथ लगभग सभी साइट पर काम शुरू कर दिया है। भास्कर ने शनिवार को साइट विजिट किया तो पता चला कि राज्य सरकार की एजेंसी जेडीए ने दो साल में महज 10 प्रतिशत काम किया था। इसमें मिट्टी के काम भी पूरे नहीं हो पाए थे। वहीं, एनएचएआई ने दो माह में ही 15 प्रतिशत काम पूरा कर दिया। एनएचएआई ने 18 जनवरी से काम शुरू कर 15 महीने में काम पूरा करने की डेडलाइन दी है। खास बात यह भी है कि इसमें 42 में से 35 से ज्यादा स्ट्रक्चर पर भी काम चल रहा है

दो साल में जेडीए ने काम बीच में छोड़ा, एनएचएआई ने काम में िदखाई तेजी

िशवदासपुरा टोंक कोटा हाईवे पर मूल स्वरूप में िदखी

ढूंढ नदी पर रेलवे ट्रक के पास तेज गति से चलता पुल निर्माण

बड़ा सवाल

हमारे लिए कब बन जाएगी रिंग रोड?

टोटल रीकॉल

जेडीए की कंपनियां काम करने में फेल रहीं तो नवंबर 2015 में तत्कालीन जेडीसी ने फर्मों को टर्मिनेशन का नोटिस दिया। प्रोजेक्ट में लगे ‘इंडिपेंडेंट इंजीनियर’ के आंकलन मुताबिक तब तक मौके पर केवल 45 करोड़ का काम हुआ था। बाद में समझौते और सेटलमेंट कमेटी की रिपोर्ट के मुताबिक कंपनियों और दोषी अफसरों पर कार्रवाई के बजाए कंपनियों को 140 करोड़ रुपए देकर समझौता किया गया।

20 इंजीनियर काम में फेल, अब सिर्फ 3 लगे हैं

जेडीए के पास जब काम था तो डायरेक्टर इंजीनियर के अलावा एडिशनल चीफ, एसई और उसकी देखरेख में चार एक्सईएन सहित करीब 20 इंजीनियरों की टीम लगी थी। इसके बावजूद संबंधित फर्म से काम कराने में फेल रहे। दूसरी ओर एनएचएआई के पास प्रोजेक्ट डायरेक्टर सहित केवल 3 इंजीनियरों की टीम है।

गोनेर बूरथल के पास नदी के ऊपर िदखने लगा िरंग रोड का िनर्माणधीन पुल। फोटो : महेन्द्र शर्मा

47 किमी पर 70 करोड़ का काम, 140 करोड़ देकर सौदा

एनएचएआई का दावा

अप्रैल 2019 तक हर हाल में बना देंगे, सभी साइटों पर एक साथ काम चल रहा है...

हम डेडलाइन से पहले काम करेंगे- एनएचएआई