Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» अवैध निर्माण रोकने गई निगम की टीम ने परिवार को मकान के अंदर ही सील किया

अवैध निर्माण रोकने गई निगम की टीम ने परिवार को मकान के अंदर ही सील किया

जयपुर | अवैध निर्माण रोकने पर नगर निगम कितना सख्त है ये भले निगम क्षेत्र में बसी अवैध बस्तियों से पता चल जाता हो,...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 04:00 AM IST

जयपुर | अवैध निर्माण रोकने पर नगर निगम कितना सख्त है ये भले निगम क्षेत्र में बसी अवैध बस्तियों से पता चल जाता हो, लेकिन अपनी इस सख्ती के प्रदर्शन में निगम की टीम ने गुरुवार को एक परिवार को मकान के भीतर ही सील कर दिया। मानसरोवर जोन के जेईएन बिल्डिंग और विजिलेंस टीम ने बरकत नगर के आदर्श बाजार गली नंबर-18 के प्लॉट नंबर-4 पर बिना अनुमति चल रहे निर्माण को सील किया तो इसी बिल्डिंग के प्रथम तल पर रह रहे परिवार को अंदर ही सील कर दिया। प्लॉट के मालिक का कहना है कि टीम ने बिना कोई नोटिस दिए कार्रवाई की और जब उन्होंने मजबूरी जताई कि परिवार को कहां ले जाएं तो टीम ने परिवार को मकान के अंदर ही सील कर दिया। परिवार की एक सदस्य की तबीयत खराब थी, मगर निगम टीम ने गुहार सुनने के बजाय जोन उपायुक्त सरोज ढाका से बात करने को कह दिया।

मैंने जोन उपायुक्त से जानकारी मांगी है

मुझे घटना की जानकारी स्थानीय लोगों से मिली है। इस विषय में जोन उपायुक्त से जानकारी मांगी है। यदि परिवार को मकान के अंदर सील किया गया है तो ये गलत है। दोषियों पर कार्रवाई भी की जाएगी। रवि जैन, निगम कमिश्नर

ऐसी जल्दी कि खाना भी नहीं खाने दिया

बिल्डिंग को पहले भी िनयम तोड़ने की वजह से सील किया गया था। मकान मालिक के शपथ पत्र देने पर हमने सील खोली थी। वायलेशन दूर नहीं किया गया, इसलिए दुबारा कार्रवाई की गई। जब हमने बिल्डिंग सील की उस वक्त घर में कोई नहीं था। यह बिल्डिंग रहने लायक नहीं थी इसमें बिजली कनेशन भी नहीं है। सुरेश कुमार, जेईएन, मानसरोवर जोन

नहीं दिया नोटिस, लोगों में आक्रोश, देररात खोली सील

बरकत नगर के इस प्लॉट पर निर्माण कार्य चल रहा था। गुरुवार शाम करीब 7:30 पर जेईएन व विजिलेंस टीम पहुंची और मजदूरों को बाहर निकाल दिया। इतनी देर में मकान मालिक हरिकिशन भी पहुंच गए। उन्होंने कहा कि निर्माण के विषय में उन्हें कोई नोटिस नहीं मिला। टीम ने इस विषय में जोन उपायुक्त सरोज ढाका से बात करने को कहा और मकान खाली करने के निर्देश दिए। जब हरिकिशन ने कहा कि रात में परिवार लेकर कहां जाऊंगा तो टीम ने उनको परिवार समेत मकान के अंदर ही सील कर दिया। कॉलोनीवासियों ने इसकी जानकारी निगम कमिश्नर रवि जैन को दी, तो उन्होंने वापस टीम भेजने और सील खुलवाने का आश्वासन दिया। देर रात निगम की टीम सील खोलने पहुंची तो लोगों ने आक्रोश जताया ओर जमकर खरी-खोटी सुनाई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×