Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Drug Addicon Cough Syrup Seized In Jaipur

नशे में इस्तेमाल होने वाले कोडीन कफ सिरप के 323 कार्टन जब्त, एसओजी ने 4 को गिरफ्तार किया

ढाई साल पहले चेतन के खिलाफ गंगानगर में औषधि नियंत्रक अधिकारियों ने एफआईआर दर्ज कराई थी।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 11, 2017, 04:40 AM IST

नशे में इस्तेमाल होने वाले कोडीन कफ सिरप के 323 कार्टन जब्त, एसओजी ने 4 को गिरफ्तार किया
जयपुर. राजधानी में नकली व नशीली दवाइयों के कारोबार का पर्दाफाश करते हुए एसओजी ने गुरुवार रात को चार आरोपियों को गिरफ्तार किया। ड्रग तस्कर चन्दवन नगर आमेर रोड निवासी नारायण दास त्रिलोकानी, अरावली विहार मोहन शर्मा, कुम्भा मार्ग निवासी चेतन प्रकाश व कालवाड़ निवासी सुशील करनानी से 323 कार्टन नशीली दवा जब्त की। इनकी कीमत 45 लाख से ऊपर है। उक्त दवाइयों में ‘कोडीन’ नाम का साल्ट (खांसी में काम आती है और नशे में मिसयूज) मिला हुआ है, जो नारकोटिक्स ड्रग्स की श्रेणी में है।

चेतन प्रकाश और सुशील करनानी इससे पहले भी इस कारोबार से जुड़े रहे हैं। ढाई साल पहले चेतन के खिलाफ गंगानगर में औषधि नियंत्रक अधिकारियों ने एफआईआर दर्ज कराई थी। इसके अलावा यह परिजनों आदि के नाम से फिल्म कॉलोनी से ही कई लाइसेंस लेकर यह काम करता आया है। अब एसओजी की टीम ने इसको गिरफ्तार कर माल जब्त किया है तो इसके ठिकानों पर दबिश देकर नकली दवाओं के कारोबार को खत्म करने की जरूरत है।
कई साल से चल रहा नशीली दवाओं का काला धंधा
चारों मिलकर पिछले 6-7 साल से दवाइयों का काम कर रहे हैं। पुलिस व औषधि नियंत्रण विभाग से बचने के लिए हर साल अपने गोदाम की लोकेशन बदल देते हैं। विदेश में सप्लाई करने की बात भी सामने आई- पूछताछ में सामने आया कि आसाम व नगालैंड के एजेंटों के माध्यम से कुछ दवाइयां विदेशों में भी सप्लाई की है, जिसकी जांच की जा रही है। आरोपी यह दवाइयां हिमाचल प्रदेश व उत्तराखंड से मंगवाते थे। ट्रक जैसे ही जयपुर के आसपास पहुंचता तो ज्यादातर दवाइयां सीधी एजेंटों की गाड़ियों में लोड करवा देते थे, ताकि गोदाम पर ज्यादा माल इकट्ठा ना हों। ड्रग कंट्रोल अजय फाटक ने कहा कि संबंधित आरोपी पहले से इस धंधे में लिप्त हैं। खांसी की यह दवा नशे में काम लेने के लिए अलग-अलग नाम से लाइसेंस लेकर जगह बदलते रहते हैं।
चरस, गांजा और अ‌वैध शराब के बाद अब नशीली दवा पकड़ी
पुलिस ने तीन दिन पहले 47 किलो गांजा, पांच किलो चरस और 260 बोतल अवैध शराब पकड़ी थी। अब नशीली दवा का गोदाम पकड़ा गया। आईजी दिनेश एमएन ने बताया कि गुरुवार रात को मुखबिर की सूचना पर गोदाम पर दबिश दी। यहां 323 कार्टून में 38760 शीशी नकली दवा की थी। जांच के लिए सैंपल एफएसएल भिजवा दिए हैं।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×