Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Marriage Without Taking Dowry

ससुर ने नोटों से भरी थाल रखी दी सामने, दूल्हे ने 101 रु. का शगुन लेकर की शादी

बेटी वालों से शगुन के तौर पर 101 रुपए का शगुन लेकर शादी की।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 07, 2017, 12:57 AM IST

ससुर ने नोटों से भरी थाल रखी दी सामने, दूल्हे ने 101 रु. का शगुन लेकर की शादी
जयपुर. जिस दौर में किसी बाप के लिए बेटी के विवाह की चिन्ता बहुत बड़ी हो, उस दौर में अगर कोई योग्य वर महज 101 रुपए के शगुन पर उसकी बेटी को ब्याह ले जाए तो ये उस बाप के लिए बहुत संतोष की बात होगी। समाज के सामने एक ऐसी ही नजीर पेश की है फालियावास निवासी मीनेश मीणा ने। मीनेश की शादी हाल ही कादेड़ा निवासी सरिता से हुई है। मीनेश एवं उसके पिता ने बेटी वालों से शगुन के तौर पर मात्र 101 रुपए का शगुन लेकर विवाह किया है।
- फालियावास निवासी मीनेश मीणा वर्तमान में जेएनयू अस्पताल में कार्यरत है। उनके पिता रामजीलाल मीणा सरकारी स्कूल में प्रधानाध्यापक है। मीनेश की शादी 31 अक्टूबर को कादेड़ा, चाकसू निवासी सरिता मीणा के साथ हुई।
- मीनेश के अनुसार, उन्होंने एवं उनके परिजनों ने पूर्व में ही दुल्हन के परिजनों को इस बारे में बता दिया था। मगर लोक व्यवहार के चलते लड़की के पिता पप्पूराम मीणा ने शादी के समय नोटों से भरी परात उनके सामने रखी दी। जिसपर उनके पिता ने समधि का मान रखते हुए नोटों के भरी परात में से महज 101 रुपए शगुन के तौर पर स्वीकार किए।
- मीनेश के पिता रामजीलाल मीणा का कहना था कि उन्होंने जीवनभर विद्यार्थियों को दहेज नहीं लेने का पाठ पढ़ाया है, ऐसे में वो खुद कैसे दहेज स्वीकार कर सकते थे।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×