Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Murder Case In Affair Revealed

पति को छोड़कर रहने लगी दूसरे के साथ, तीसरे के साथ मिलकर मार डाला

विवार को प्लास्टिक के कट्टे में मिले शव के मामले में खुलासा।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 14, 2017, 08:41 AM IST

पति को छोड़कर रहने लगी दूसरे के साथ,  तीसरे के साथ मिलकर मार डाला
जयपुर.रविवार को प्लास्टिक के बोरे(बारदाना) में मिली लाश के मामले में पुलिस ने गुत्थी सुलझाने का दावा किया है। जिसमें मृतक के साथ बिना शादी के रहने वाली महिला और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया। बताया जाता है कि महिला अपने पति काे छोड़कर दूसरे(अब मृतक) के साथ रहने लगी थी। कुछ वक्त से वह उससे अलग रहने लगी थी। इस बीच महिला का अफेयर किसी दूसरे के साथ हो गया और दोनों ने मिलकर दूसरे को ठिकाने लगा दिया। ऐसे किया था पुलिस को गुमराह करने की कोशिश...
- मुरलीपुरा की शंकर विहार कॉलोनी में रविवार को प्लास्टिक के कट्टे में मिले एक लाश मिली थी। शुरुआती जांच में सामने आया कि मृतक बिहार के मिर्जापुर का रहने वाला गोविंद रस्तोगी था।
- महिला सरस्वती देवी के साथ किराये के मकान में रहता था और मजदूरी करता था। 4 साल पहले वह महिला के साथ भागकर जयपुर आया था। कुछ दिन पहले दोनों के आपस में झगड़ा हो गया था। जिसके बाद महिला अलग रह रही थी।
- पुलिस पूछताछ में सरस्वती ने बताया कि रविवार सुबह 8 बजे दो लड़के उसके कमरे पर आए और बोले कि तेरे पति को हमने मार दिया है। उसकी लाश ले लेना और किसी को बताया तो तेरे को भी मार देंगे।
- तब वह मकान मालिक के पास गई और सारी बात बताई। तब दोनों ने मिलकर पास ही स्थित कमरे पर जाकर देखा तो प्लाॅट में एक कोने में प्लास्टिक के बोरे में एक लाश बंधी थी। उसके बाद दोनों ने पुलिस को सूचना दी।
दो बच्चों और पति को छोड़कर आ गई थी
- पुलिस की शक की सुई सरस्वती पर ही टिक गई थी। दरअसल सरस्वती दो बच्चों और पति को छोड़कर 4 साल पहले जयपुर आ गई थी।
- रविवार सुबह भी दो लड़कों द्वारा बाल गोविंद की हत्या करने की बात बताने के बाद जब कट्टे से लाश को बाहर निकाला तो महिला ने बाल गोविंद को पहचानने से इनकार कर दिया। फिर पुलिस ने मकान मालिक और पड़ोसियों से पूछताछ करके पुलिस ने लाश की शिनाख्त की।
कुल्हाड़ी से गले पर वार कर ली थी जान
- पुलिस के मुताबिक, दोनों ने मिलकर 9 नवम्बर की रात गोविंद की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी थी। उसके बाद लाश प्लास्टिक के कट्टे में डालकर लकड़ी की बल्लियों में फेंक दी। इसके दो दिन तक किसी को कुछ नहीं बताया ने किसी को पता चला।
- लाश की शिनाख्त के बाद महिला को थाने लाकर पूछताछ की तो सामने आया कि महिला 4 साल पहले पति को छोड़कर बाल गोविंद के साथ जयपुर आई थी।
- कुछ दिन पहले पता चला कि बाल गोविंद के किसी दूसरी महिला से नाजायज रिश्ते हैं। तब वह पास में रहने वाले प्रेमी सीकर निवासी भंवर सिंह रोहिला के पास रहने लगी और बाल गोविंद को मारने की साजिश रची।
- 9 नवम्बर को दोनों बाल गोविंद के कमरे पर आए और शराब पी। उसके बाद कुल्हाड़ी से गले पर वार कर मारकर हत्या कर दी।
आगे की स्लाइड्स में देखें खबर से जुड़ीं फोटोज...
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×