Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Assembly Elections On Vasundhara And Rahul's Face In The State

प्रदेश में वसुंधरा राजे और राहुल गांधी के चेहरे पर लड़ा जाएगा विधानसभा चुनाव

भाजपा को मोदी, अमित शाह से और कांग्रेस को सचिन पायलट, अशोक गहलोत से मिलेगी ऊर्जा

Bhaskar News | Last Modified - Aug 09, 2018, 06:23 AM IST

प्रदेश में वसुंधरा राजे और राहुल गांधी के चेहरे पर लड़ा जाएगा विधानसभा चुनाव

जयपुर.राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए फील्डिंग तैयार हो गई है। भाजपा ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और कांग्रेस ने राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के चेहरे के सहारे चुनावी मैदान में उतरने की घोषणा की है।

वसुंधरा राजे ने प्रदेश में गौरव यात्रा के जरिए कांग्रेस पर ताबड़तोड़ वार करना शुरू कर दिया है। इसके पलटवार के लिए कांग्रेस भी 11 अगस्त को राहुल गांधी को जयपुर ला रही है। राहुल के रोड शो और मंदिर दर्शन के जरिए भाजपा के खिलाफ माहौल बनाने के साथ कांग्रेस चुनावी जंग का ऐलान करेगी। वसुंधरा राजे को ऊर्जा देने का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह करेंगे, वहीं राहुल गांधी के सिपहसालार के तौर पर प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट, पूर्व सीएम अशोक गहलोत और पूर्व केंद्रीय मंत्री सीपी जोशी कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने का काम करेंगे।

वसुंधरा राजे :वसुंधरा राजे राजस्थान भाजपा में सबसे ताकतवर नेता है। उनके सामने कोई दूसरा नाम नहीं टिकता। ऐसे में भाजपा ने मुख्यमंत्री के प्रत्याशी के तौर पर पहले ही उनके नाम की घोषणा कर दी है। सीएम के लिए नाम तय होते ही अपना दमखम दिखाने के लिए वसुंधरा मैदान में उतर चुकी हैं। राजस्थान गौरव यात्रा के जरिए 33 जिलों के 165 विधानसभा क्षेत्रों में घूमेंगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह अपना मैसेज देकर जा चुके हैं, जिससे कांग्रेस को यह कहने का मौका न मिले की वसुंधरा और मोदी के बीच में रिश्ते ठीक नहीं है।
राहुल गांधी :प्रदेश कांग्रेस के भीतर किसी प्रकार का विवाद न हो, इसको ध्यान में रखकर राहुल गांधी के नेतृत्व में चुनाव लड़ने की घोषणा पार्टी प्रभारी अविनाश पांडे की ओर से बार-बार की गई है। उनकी ओर से यहां तक कहा गया है कि प्रदेश के सभी नेताओं की ओर से चुनाव के दौरान सहयोग किया जाएगा। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि किसी एक व्यक्ति को जैसे ही चेहरा घोषित किया जाएगा, दूसरा या तीसरा गुट नाराज हो जाएगा। इससे चुनाव के दौरान पार्टी को नुकसान होने की आशंका जताई जा रही है। इसी को ध्यान में रखकर बीच का रास्ता निकाला गया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×