कोटा / शहर में फिर मचा हड़कंप, रात को सड़क पर दिखने के बाद गायब हुआ भालू; वन विभाग की टीम रातभर गश्त करती रही

कुंद-कुंद नगर में सड़क पर दिखा भालू।
इससे पहले शुक्रवार रात को मुकंदरा रिजर्व ऑफिस में घुसा भालू। इससे पहले शुक्रवार रात को मुकंदरा रिजर्व ऑफिस में घुसा भालू।
X
इससे पहले शुक्रवार रात को मुकंदरा रिजर्व ऑफिस में घुसा भालू।इससे पहले शुक्रवार रात को मुकंदरा रिजर्व ऑफिस में घुसा भालू।

  • सड़क पर भालू को देख बाइकर्स के उड़े होश, वन विभाग की टीम रातभर गश्त करती रही
  • शुक्रवार रात को शहर में डेढ़ घंटे दौड़ता रहा भालू, पुलिस और फॉरेस्ट टीम करती रही निगरानी

दैनिक भास्कर

Mar 16, 2020, 05:53 PM IST

कोटा. शहर में रविवार रात को भालू आने की खबर से दहशत की स्थिती बनी हुई है। तीन दिन से इलाके में भालू की सूचना वन विभाग को मिल रही है। रात 8.30 फिर नांता कुंद-कुंद नगर के आसपास भालू को देखा गया। कुछ बाइक सवार ने भालू का वीडियो बनाकर वन विभाग को सूचना दी। रेंजर संजय नागर ने बताया कि उन्होंने भालू की सूचना के बाद एक टीम को पहुंचाया। इसके बाद वह टीम रातभर गश्त करती रही। शहर में मुकंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व एरिया से भालू का मूवमेंट आबादी वाले इलाके में बना हुआ है।

शुक्रवार को वन विभाग ने भालू के जंगल लौटने की सूचना दी थी

इससे पहले शुक्रवार रात को आरकेपुरम, मुकंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व ऑफिस में भालू घुस गया था। इसके बाद चंबल नदी के आरकेपुरम में भालू की चहल कदमी देखी गई थी। मुकंदरा रिजर्व के एसीएफ आरएस भंडारी ने बोरावास टीम को अलर्ट कर मौके पर भेजा था। तब वन विभाग ने कहा था कि भालू का कुछ भी पता नहीं चल पाया। वहीं वन विभाग का कहना है कि भालू वापस जंगल में लौट गया। पुलिस के वाहन भालू की निगरानी में लगे हुए हैं।

किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया

भालू आरकेपुरम कॉलोनी एरिया से होता हुआ मुकंदरा रिजर्व ऑफिस पहुंच गया था। यहां दीवार फांदकर रिजर्व ऑफिस में कूदकर आरटीयू कैंपस में घुस गया। इसके बाद मुकंदरा रिजर्व के जवाहर सागर सेंचुरी इलाके में घुस गया। रेंजर संजीव गौतम ने बताया है कि भालू ने किसी भी व्यक्ति को नुकसान नहीं पहुंचाया है। रात करीब ढाई बजे जंगल की ओऱ चला गया था। टीम में शामिल बोरावास के मनीष कुमार सहित अन्य शामिल रहे।

नाता मेंढकीपाल एरिया में महिला पर किया था हमला
नांता थर्मल एरिया से गत 22 फरवरी को मेंढकीपाल बालाजी में सुबह 50 साल की एक महिला पर भालू ने हमला कर दिया था। महिला ने भालू से बचाव का प्रयास भी किया। द्रोपदी के पति छोटूलाल ने बताया कि भालू ने अचानक नाले से आकर पत्नी पर हमला कर दिया था, इससे वह गंभीर घायल हो गई थी। मुंह से तीन बार हमला किया था। इस दौरान बचाव के लिए पत्थर फेंकने और साथ दो बच्चों की आवाज के बाद भालू जंगल में चला गया था। घायल महिला को लेकर एमबीएस अस्पताल पहुंचे थे। वन्यजीव विभाग के एसीएफ अनुराग भटनागर ने बताया कि इस संबंध में पीड़ित की ओर से अभी मेडिकल रिपोर्ट नहीं मिली थी। रिपोर्ट मिलने के बाद विभागीय नियमानुसार मुआवजे की प्रक्रिया संभव हो सकेगी।

न्यूज व फोटो : प्रवीण जैन

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना