पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

हे भाजपा विधायकों! आपसे अपील- बाजू पर बंधा विरोध तो ठीक, मुंह पर चुप्पी की पट्‌टी क्यों... प्रश्न पूछिए

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
प्रश्न नहीं मौनकाल : शुक्रवार को विधानसभा की ना पक्ष लॉबी में मुंह पर पट्‌टी बांधे बैठे भाजपा विधायक। सदन में भी इसी मुद्रा में मौजूद रहे।
  • जोशी प्रश्नकाल के दौरान केवल उन्हीं विधायकों से पूरक प्रश्न करा रहे हैं, जिन्होंने मूल सवाल लगाए

जयपुर. राजस्थान विधानसभा का मानसून सत्र सात दिनों से सियासत का मौन केंद्र बना हुआ है। भाजपा विधायक सदन में आ तो रहे हैं, कार्यवाही में भाग भी ले रहे हैं लेकिन प्रश्नकाल में सरकार से कोई सवाल नहीं कर रहे। आप इसे कुछ भी कहें, भाजपा विधायकों के विरोध का यही तरीका है। भाजपा विधायकों की नाराजगी दरअसल अध्यक्ष सीपी जोशी के नई व्यवस्था के विरोध में है। जोशी प्रश्नकाल के दौरान केवल उन्हीं विधायकों से पूरक प्रश्न करा रहे हैं, जिन्होंने मूल सवाल लगाए हैं। दूसरे किसी भी सदस्य को पूरक प्रश्न पूछने की अनुमति नहीं है। इस व्यवस्था को बदलने का भाजपा की ओर से विरोध किया जा रहा है। अब भाजपा का विरोध तो ठीक है लेकिन इस एक मुद्दे के पीछे सदन में चुप रहना और दूसरा कोई प्रश्न न पूछना क्या सही है? हे माननीय। आपसे सरकार से सीधे सवाल करने की उम्मीद है। न कि चुप्पी साधने की।

 

प्रश्नकाल क्यों महत्वपूर्ण...
क्योंकि इसी सत्र में विधायक के प्रश्न का सरकार को तुरंत जवाब देना होता है। इसी सत्र में सरकार की जवाबदेही तय होती है।

 

नया नियम नहीं बनाया
नियम में पहले से जो प्रावधान थे, उसे केवल लागू किया है। सवाल करने से कौन रोक रहा है? मैं चाहता हूं कि हर विधायक सवाल लगाए और सरकार जवाब दे। लेकिन किसी दूसरे के सवाल पर कोई तीसरा व्यक्ति पूरक प्रश्न करे। इसकी मैं इजाजत नहीं दूंगा। -सीपी जोशी, स्पीकर विधानसभा

 

सदन में 7 दिनों से गतिरोध, प्रश्नकाल से भाजपा गायब, सत्तापक्ष ही सवाल पूछकर दे रही जवाब... यानी सरकार ही पक्ष, वही विपक्ष


हमारी आवाज दबाना चाहती है सरकार
प्रश्नकाल में नई व्यवस्था लागू करके सरकार ने विपक्षी विधायकों की आवाज को दबाने का काम किया है। अध्यक्ष नहीं चाहते की हम सवाल-जवाब करें। सवाल करना हमारा संवैधानिक अधिकार है। -राजेंद्र राठौड़, उप नेता, प्रतिपक्ष

 

 

 

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आपका कोई सपना साकार होने वाला है। इसलिए अपने कार्य पर पूरी तरह ध्यान केंद्रित रखें। कहीं पूंजी निवेश करना फायदेमंद साबित होगा। विद्यार्थियों को प्रतियोगिता संबंधी परीक्षा में उचित परिणाम ह...

और पढ़ें