पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

स्टेट हाईवे पर निजी वाहनों पर टोल टैक्स वसूली शुरू, विरोध में भाजपा उतरी सड़कों पर

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
निजी वाहनों पर स्टेट हाईवे पर टोल टैक्स लागू करने के विरोध में कलेक्ट्रेट पर भाजपा ने दिया धरना।
  • भाजपा जयपुर जिला ने जिला कलेक्ट्रेट पर दिया धरना, टोल टैक्स वापस लेने की मांग की
Advertisement
Advertisement

जयपुर। प्रदेश में गुरुवार रात से निजी वाहनों पर लागू टोल टैक्स के विरोध में भाजपा ने जयपुर में धरना दिया। धरने-प्रदर्शन में पार्टी के जयपुर जिला अध्यक्ष मोहनलाल गुप्ता, सांगानेर विधायक अशोक लाहोटी सहित बड़ी संख्या मे नेता-कार्यकर्ता शामिल हुए।  कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मोहनलाल गुप्ता ने कहा कि अगर पैसों की कमी है तो मुख्यमंत्री झोली फैला कर निकल जाएं जनता झोली में दान कर देगी। उल्लेखनीय है कि प्रदेश के स्टेट हाईवे पर डेढ़ साल बाद गुरुवार रात 12 बजे से निजी वाहनों को फिर से टोल शुरू हो गया। अब 143 नाकों पर निजी वाहनों से डेढ़ साल पुरानी दर से टोल वसूला जाएगा। यानि हर नाके पर निजी वाहनों को 30-55 रुपए तक देने होंगे। गहलोत सरकार ने बुधवार को पिछली वसुंधरा सरकार का 18 माह पुराना फैसला पलटते हुए फिर से टोल लगाने का फैसला किया था। गुरुवार को सरकार ने इसका नोटिफिकेशन जारी कर दिया।
 

भाजपा ने दिया धरना
 
स्टेट हाईवे पर निजी वाहनों से टोल वसूली को लेकर भारतीय जनता पार्टी जयपुर जिले की ओर से कलेक्ट्रेट पर धरना-प्रदर्शन किया गया। धरने में जिला अध्यक्ष मोहनलाल गुप्ता, पूर्व मंत्री वासुदेव देवनानी, चौमूं विधायक रामलाल शर्मा, पूर्व विधायक कैलाश वर्मा, सांगानेर विधायक अशोक लाहोटी, पार्षद महान पंडित सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुए।
 

सीएम झोली फैलाकर निकल जाएं
 
भाजपा जिला अध्यक्ष मोहनलाल गुप्ता ने कहा कि अगर पैसों की कमी है तो मुख्यमंत्री झोली फैला कर निकल जाएं जनता झोली में दान कर देगी। उन्होंने कहा कि हर टोल पर टैक्स लगाएं और कहें गहलोत टैक्स चुका कर आगे बढ़ें। धरने के बाद भाजपा ने जिला कलेक्टर को राज्यपाल कलराज मिश्र के नाम ज्ञापन सौंपा गया।
 

गहलोत बोले पिछली सरकार ने जल्दबाजी में लिया फैसला
 
सीएम अशोक गहलोत ने बयान जारी करते हुए कहा कि पिछली सरकार ने निजी वाहनों के लिए टोल फ्री करने का फैसला जल्दबाजी में व बिना सोचे-समझे लिया था। यह उनका चुनावी स्टंट था। इससे सड़कों की मरम्मत व रखरखाव के काम प्रभावित हो रहे हैं। टोल शुल्क की छूट वापस लेने का प्रस्ताव मंत्रिमंडल ने जनहित व राजकोष पर आने वाली बड़ी देनदारी को देखते हुए लिया है। वहीं विपक्षी दल विरोध में उतर आए हैं। भाजपा ने फैसला वापस लेने की मांग की तो आरएलपी संयोजक हनुमान बेनीवाल ने कहा- सरकार के फैसले के खिलाफ आरएलपी सड़कों पर उतरेगी। प्रदेशव्यापी आंदोलन किया जाएगा। सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने फैसले को सही बताया लेकिन यह जरूर माना कि टोल वापस लगने से विरोध होगा। इसका असर चुनाव नतीजों पर भी पड़ सकता है।
 

न्यूज व फोटो : शिवप्रकाश शर्मा
 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज पिछले समय से आ रही कुछ पुरानी समस्याओं का निवारण होने से अपने आपको बहुत तनावमुक्त महसूस करेंगे। तथा नजदीकी रिश्तेदार व मित्रों के साथ सुखद समय व्यतीत होगा। घर के रखरखाव संबंधी योजनाओं पर भ...

और पढ़ें

Advertisement