--Advertisement--

अपने ही घर की गैलरी में चुन्री से लटकी मिली मां-बाप की लाड़ली, फ्रेंड ने कहा-कॉल कर कहा था ऐसा

पिता बोले: परीक्षा के बाद से रहने लगी थी गुमसुम, करीबी मित्र ने कहा: कॉल कर बताया था पेपर अच्छे गए

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 07:51 AM IST
अपने घर की गैलरी पर फंदा लगाकर छात्रा ने जान दे दी। अपने घर की गैलरी पर फंदा लगाकर छात्रा ने जान दे दी।

बांसवाड़ा (जयपुर). हरिदेव जोशी कॉलेज में बीएससी अंतिम वर्ष की छात्रा और छात्र संगठन एबीवीपी की उपाध्यक्ष 20 वर्षीय रीना पुत्र भवानीसिंह मईड़ा सोमवार सुबह कुशलगढ़ के पाडला गांव में अपने ही घर की छत से फंदे पर मृत लटकी मिली। रीना के माता-पिता रात को किसी रिश्तेदारी में शादी में गए थे। भाई-बहनों के साथ खाना खाने के बाद रीना सो गई थी। इस दौरान भवानीसिंह के साढू का बेटा भी मौजूद था। सुबह रीना का शव छत की रेलिंग पर फंदे से लटका मिला। शिक्षक पिता भवानीसिंह ने किसी पर संदेह नहीं जताया है। उनका कहना है कि परीक्षा के बाद से ही वह गुमसुम थी लेकिन खुलकर किसी को बताया नहीं। थानाधिकारी किरेंद्रसिंह ने बताया कि मौका हाल देखकर यह खुदकुशी प्रतीत हो रही है। इसके अलावा शव 8 घंटों से ज्यादा लटका होना लग रहा है जिससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि रात को सभी के सोते ही रीना फंदे पर झूल गई। माता-पिता रिश्तेदार की शादी में गए थे...

- जानकारी के मुताबिक शरीर पर कोई चोट के निशान भी नहीं है। लेकिन रीना के ऐसा कदम उठाने के पीछे क्या वजह रही इसकी जांच की जाएगी।

- इस संबंध में रीना की करीबी मित्र और जयपुर से आयुर्वेद में डॉक्टरी कर रही आरती डामोर से बात की तो वह भी सकते में आ गई।

- आरती ने बताया कि रीना से आखिरी बार 19 अप्रैल को फोन पर बात की थी। तब, रीना ने एक्जाम अच्छा होने और अच्छे नंबर आने की बात की थी।

- पढ़ने में होनहार रीना ने 11वीं और 12वीं की पढ़ाई सीकर में रहकर की। बाद में उदयपुर एसेंट कोचिंग सेंटर में 2 साल पढ़ाई कर पीएमटी की परीक्षा भी दी।

- सलेक्शन नहीं होने पर बीते दो साल से बांसवाड़ा स्थित हरिदेव जोशी राजकीय कन्या कॉलेज में बीएससी में प्रवेश लिया।

- अपने सहज स्वभाव से रीना कन्या कॉलेज में इस साल एबीवीपी से उपाध्यक्ष का चुनाव जीती थी। रीना की 4 बहनें और एक भाई है। रीना तीसरे नंबर की थी।

बीएससी फाइनल ईयर की छात्रा थी रीना

- रीना के परिजनों ने बताया कि 25 अप्रैल को बीएससी अंतिम वर्ष की परीक्षा देने के बाद से ही वह गुमसुम रहने लगी थी। लेकिन किसी को इसकी वजह नहीं बताई।

- आहत पिता भवानीसिंह ने बताया कि रीना ऐसा कदम उठाएगी इससे वह भी हैरत में है। भवानीसिंह भी काकनवानी स्कूल में अध्यापक है।

- घटना की जानकारी मिलने पर कुशलगढ़ प्रधान रमीला खड़िया, पोटलिया सरपंच छगनलाल खड़िया, प्रवीण कटारा समेत बड़ी तादाद में ग्रामीण पहुंचे और आहत परिजनों को ढांढ़स बंधाया।

मृतक रीना मईड़ा मृतक रीना मईड़ा
X
अपने घर की गैलरी पर फंदा लगाकर छात्रा ने जान दे दी।अपने घर की गैलरी पर फंदा लगाकर छात्रा ने जान दे दी।
मृतक रीना मईड़ामृतक रीना मईड़ा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..