राहत / पैतृक संपत्ति के बंटवारे पर डीएलसी की 1.5% स्टाम्प ड्यूटी नहीं लगेगी



budget: 1.5% stamp duty of DLC will not be levied on sharing of parental property
X
budget: 1.5% stamp duty of DLC will not be levied on sharing of parental property

  • संपत्ति विवादाें के काेर्ट तक पहुंचने के मामले घटने के आसार
  • सीएम गहलाेत की ओर से बजट में यह घाेषणा भी शामिल थी

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 02:26 AM IST

जयपुर. पैतृक संपत्ति के बटंवारे के दस्तावेजों पर अब स्टाम्प ड्यूटी नहीं लगेगी। हालांकि, पंजीयन शुल्क में काेई छूट नहीं दी गई है। सीएम अशाेक गहलाेत की ओर से एक दिन पहले पेश किए गए बजट में यह घाेषणा भी शामिल थी। इसी प्रकार ब्लड रिलेशन में गिफ्ट की गई अचल संपत्ति पर भी स्टांप ड्यूटी नहीं लगेगी, लेकिन पंजीयन शुल्क लगेगा।

 

अभी पैतृक संपत्ति के बंटवारे के दस्तावेजाें पर संपत्ति की डीएलसी रेट का एक प्रतिशत पंजीयन शुल्क तथा 1.5 प्रतिशत स्टांप ड्यूटी शुल्क लगता था। इसके अलावा स्टांप ड्यूटी शुल्क पर 20 प्रतिशत अधिभार अाैर सीएसआई के 300 रुपए लगते थे। हालांकि, डीएलसी रेट का एक प्रतिशत पंजीयन शुल्क पर अब भी लगेगा।

 

माना जा रहा है कि पैतृक संपत्ति के मामलों में भारी शुल्क काे देखते हुए लाेग दस्तावेजों की रजिस्ट्री नहीं करवाते थे। बाद में परिवार में संपत्ति काे लेकर अगर काेई विवाद हाेता था ताे मामले काेर्ट में पहुंच जाते थे। अब बजट में छूट देने से इस तरह के विवादाें पर काफी हद तक राेक लगेगी। इसके अलावा लाेगाें में दस्तावेजों की रजिस्ट्री के प्रति रुझान बढ़ेगा।

 

10 लाख की संपत्ति पर 18 हजार बचेंगे
डीएलसी दर के अनुसार अगर किसी संपत्ति की कीमत 10 लाख रुपए है ताे एक प्रतिशत पंजीयन शुल्क के रूप में 10 हजार रु. तथा 1.5 प्रतिशत स्टाम्प शुल्क के रूप में 15 हजार रुपए लगते थे। इसके अलावा स्टाम्प शुल्क पर 20 प्रतिशत अधिभार के रूप में 3 हजार रु. अलग से लिए जाते थे। इन तीनाें काे मिलाकर 28 हजार रुपए स्टाम्प ड्यूटी व पंजीयन शुल्क लगता था। अब पंजीयन के रूप में लिए जाने वाले 10 हजार रुपए ही लिए जाएंगे अाैर 18 हजार का फायदा हाेगा। यही लाभ ब्लड रिलेशन में गिफ्ट की गई संपत्ति पर मिलेगा।


शहीद आश्रिताें काे स्टाम्प ड्‌यूटी में पूरी छूट 
देश के लिए शहीद हाेने वाले सैनिकों के आश्रित पत्नी, पुत्र, पुत्री, माता-पिता काे राज्य सरकार, निजी संस्थान या व्यक्ति द्वारा आवंटित अथवा हस्तांतरित आवासीय भूखंड, भवन के दस्तावेजों में स्टाम्प ड्यूटी व पंजीयन शुल्क में पूरी तरह से छूट दी गई है। शहीद परिवारों काे अब 5 प्रतिशत स्टाम्प व एक प्रतिशत पंजीयन शुल्क नहीं देना हाेगा। इससे संपत्ति की कुल डीएलसी दर पर 6 प्रतिशत का लाभ हाेगा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना