Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Anurag Kashyap In Jaipur Literature Festival 2018

'मुझ से ज्यादा आज भी कोई नहीं लिख पाता '- जयपुर लिट फेस्ट में बोले अनुराग कश्यप

लिटरेचर फेस्टिवल के दूसरे दिन की शुरुआत मशहूर फिल्म डायरेक्टर अनुराग कश्यप के साथ हुई।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 27, 2018, 09:40 AM IST

  • 'मुझ से ज्यादा आज भी कोई नहीं लिख पाता '- जयपुर लिट फेस्ट में बोले अनुराग कश्यप
    जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में पहुंचे अनुराग कश्यप

    जयपुर. लिटरेचर फेस्टिवल के दूसरे दिन की शुरुआत मशहूर फिल्म डायरेक्टर अनुराग कश्यप के साथ हुई। हिटमैन नाम के इस सेशन में उन्होंने अपनी लाइफ और फिल्मोग्राफी की कई बातें शेयर की। जानें क्या रहा खास...

    - अनुराग कश्यप के सेशन की शुरुआत उनके होम टाउन बनारस पर चर्चा के साथ हुई।
    -इसके बाद अनुराग कश्यप ने बताया कि हम लोगों को बच्चों की तरह ट्रीट करते हैं। जिसे उन्हे हमेशा से दिक्कत रहती है। मेरे लिए कोई दूसरा क्यों चुने क्या अच्छा है और क्या बुरा है।
    - जब हम एक एडल्ट की बात करते हैं तो उसकी डेफिनेशन क्या है। हमने एडल्ट को एक उम्र तक बांध रहा है। उनके बाद भी हम उन्हे एडल्ड की तरह ट्रीट नहीं करते हैं। उसके बाद भी हमारी सोच उन पर थोपते रहते हैं।
    - इसके आगे उन्होने कहा कि उन्हे उस आदमी से सबसे ज्यादा डर लगता है जो बैठकर सोचता है कि वो सब जानता है।

    खुद को परदे पर देखकर खराब लगा

    - अनुराग ने मुंबई की अपनी जर्नी पर बताया कि जब वे यहां आए उन्हें नहीं पता था क्या करना है। थिएटर करता था तो एक्टिंग एक ऑपशन था।
    - उन्होंने बताया कि मेरी हिंदी इतनी साफ थी कि मुझे रोल मिलने लग गए। नाटक मिलने लगे। 1993 में वे मुंबई गए और दिसंबर में उन्हे फिल्में मिल गईं।
    - खुद को परदे पर देखकर खराब लगता था। जिसके बाद उन्होंने डिसाइड किया कि वे परदे पर नहीं आएंगे। उन्होंने बताया कि उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री में लेंग्वेज को स्पोकन करना शुरू किया। इससे पहले उर्दू से डायलोग हिंदी में ट्रांसलेट किए जाते थे।

    मेरे से ज्यादा आज भी कोई नहीं लिख पाता

    - अनुराग कश्यप ने कहा कि वो लिखते बहुत ज्यादा थे। उनसे ज्यादा आज भी कोई नहीं लिख पाता है। एक दिन में 100 पन्ने लिख देता था।
    - उस समय नए नए डेली सोप चालू हुए थे। डेली सोप के लिए दिन में तीन एपिसोड लिख कर दे देता था। जब फिल्म की शूटिंग के लिए स्क्रिप्ट नहीं होती थी तो लोग मेरे पास आते थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jaipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Anurag Kashyap In Jaipur Literature Festival 2018
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×