विज्ञापन

पूर्व राजा के बेटे की लग्जरी गाड़िया, रोल्स रॉयस से मर्सडीज तक से सजा है गैराज

Dainik Bhaskar

Dec 18, 2017, 10:24 AM IST

पूर्व राजा के बेटे की लग्जरी गाड़िया, रोल्स रॉयस से मर्सडीज तक से सजा है गैराज

कारों का ये कलेक्शन मेवाड़ राज कारों का ये कलेक्शन मेवाड़ राज
  • comment

उदयपुर. राजस्थान की धरती राजा-महाराजा और राजपूती शान की गवाह रही है। बड़े-बड़े किलों में रहने वाले ये राजा-महाराजा रोल्स रॉयस जैसे लग्जरी गाड़ियों के भी शौकीन रहे हैं। ऐसे ही हैं मेवाड़ राजघराने के पूर्व राजा भगवत सिंह के बेटे अरविंद सिंह। अपनी सीरीज जाने राजस्थान में आज dainikbhaskar.com आपको बताएगा उनसे जुड़ी कुछ रोचक बातें। जानें अरविंद सिंह मेवाड़ के बारे में...


- अरविंद सिंह मेवाड़ घराने के 76वें संरक्षक हैं। उनके पिता भगवत सिंह ने 1955 से 1984 तक मेवाड़ घराने की कमान संभाली। बता दें कि अरविंद सिंह की शुरुआती पढ़ाई मेयो कॉलेज से हुई है।

- जिसके बाद वे होटल मैनेजमेंट की डिग्री लेने ब्रिटेन चले गए। इस दौरान उन्होंने शिकागो और यूएस में नौकरी भी की।

- उनकी शादी कच्छ की राजकुमारी विजयाराज के साथ हुई। अब वे एचआरएच ग्रुप ऑफ होटल्स के मैनेजिंग डायरेक्टर हैं। ये संगठन उनके पिता द्वारा बनाया गया था।

लग्जरी गाड़ियों के शौकीन

- लग्जरी कारों के शौकीन अरविंद सिंह के पास कई रोल्स रॉयस गाड़ियां हैं। ये सभी गाड़ियां मेवाड़ के राजाओं की निशानी हैं। उनके पास एक एमजी टीसी, 1939 कैडिलेक कन्वर्टेबल और मर्सडीज के कई मॉडल्स हैं। वे अक्सर नई गाड़ियों के लॉन्च प्रोग्राम में देखे जाते हैं। यह भी कहते हैं कि कई गाड़ियां तो खासतौर से मेवाड़ के राजाओं के लिए डिजाइन की गई हैं। लग्जरी गाड़ियां आम लोग भी देख सकें, इसके लिए राजघराने की ओर से खास इंतजाम भी किए गए हैं।

ऐशो आराम भरी जिंदगी से ऊब गए थे राजा


- मैनचेस्टर इवनिंग न्यूज में छपी एक स्टोरी के मुताबिक अरविंद सिंह मेवाड़ 22 साल की उम्र में ऐशो आराम भरी जिंदगी से ऊब गए थे। खालीपन महसूस हो रहा था।

- लिहाजा, वो राजमहल के सभी ऐशो आराम छोड़ ब्रिटेन पहुंच गए और मैनचेस्टर में एक कमरे के घर में करीब तीन साल का वक्त गुजारा। अब वो 72 साल के हो चुके हैं और उदयपुर में अपने फैमिली के साथ रह रहे हैं।


X
कारों का ये कलेक्शन मेवाड़ राजकारों का ये कलेक्शन मेवाड़ राज
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें