--Advertisement--

15 विकल्पों में से इंटर्नशिप के लिए एक भी स्कूल आबंटित नहीं, बीएड विद्यार्थियों ने डीईओ कार्यालय पर किया प्रदर्शन

15 विकल्पों में से इंटर्नशिप के लिए एक भी स्कूल आबंटित नहीं, बीएड विद्यार्थियों ने डीईओ कार्यालय पर किया प्रदर्शन

Danik Bhaskar | Jan 08, 2018, 05:22 PM IST
प्रदर्शन करते बीएड स्टूडेंट् प्रदर्शन करते बीएड स्टूडेंट्

जयपुर। बीएड प्रशिक्षणार्थियों को इंटर्नशिप के लिए सरकारी स्कूल आबंटित करने की ऑनलाइन प्रक्रिया शिक्षा विभाग के गले की फांस बन गई है। तीन दिन पहले बीएड कर रहे विद्यार्थियों की इंटर्नशिप के लिए उन्हें ऑनलाइन तरीके से सरकारी स्कूल आबंटित हुए थे। इसमें बड़ी संख्या में ऐसे प्रशिक्षणार्थी हैं जिनको निवास स्थान से पांच किमी तक स्कूल मिलना था, लेकिन 50 से 100 किमी से दूर स्कूल आबंटित हो गया। जानिए और इस बारे में ...

- हकीकत यह है कि विद्यार्थियों से स्कूल के नाम के 15 विकल्प मांगे गए थे। इसके बावजूद बड़ी संख्या में ऐसे अभ्यर्थी हैं जिनको इनमें से एक भी विकल्प का स्कूल आबंटित नहीं हुआ। अब वे परिवेदना लिए इसमें बदलाव के लिए शिक्षा संकुल स्थित जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक कार्यालय के चक्कर काट रहे हैं।

- सोमवार को आसपास के इलाकों से बड़ी संख्या में बीएड विद्यार्थी संकुल पहुंचे और सुनवाई नहीं होने पर उन्होंने प्रदर्शन किया। शिक्षा विभाग के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उन्होंने सिस्टम के सुधारने की मांग की।

- इस मामले पर डीईओ प्रारंभिक उमराव लाल वर्मा का कहना है कि स्कूल आबंटन में डीईओ कार्यालय की कोई भूमिका नहीं है। ना ही उनके पास परिवेदना लेने के आदेश हैं। इसलिए वे कुछ नहीं कर सके।

देखिए खामियों का बानगी

- बीएड विद्यार्थी किरण सैन ने का कहना है कि उसे विकल्पों में से एक भी स्कूल आबंटित नहीं हुआ। वह इस बात की शिकायत लेकर डीईओ कार्यालय पहुंची तो उसे फिर से आवेदन के लिए कहा गया। अब नजदीक कोई स्कूल खाली नहीं है। विभाग की खामी को नुकसान वह क्यों भुगते। - सीकर रोड पर रहने वाली एक अभ्यर्थी ने जयपुर के स्कूल विकल्पों में भरे थे, लेकिन उसको अजमेर का सरकारी स्कूल आबंटित हो गया जबकि उसने अजमेर भरा ही नहीं।

फोटो : विनोद मित्तल