--Advertisement--

आनंदपाल एनकाउंटर केस: सीबीआई ने हाई सिक्यूरिटी जेल में बंद आनंदपाल के भाईयों से की पूछताछ

आनंदपाल एनकाउंटर केस: सीबीआई ने हाई सिक्यूरिटी जेल में बंद आनंदपाल के भाईयों से की पूछताछ

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 06:53 PM IST

अजमेर. प्रदेश के चर्चित आनंदपाल एनकाउंटर मामले में जांच कर रही सीबीआई मंगलवार को अजमेर की हाई सिक्यूरिटी जेल पहुंची। जहां सीबीआई के अधिकारियों ने जेल में बंद आनंदपाल के भाई रूपेश उर्फ विक्की और देवेंद्र उर्फ गट्टू से पूछताछ की।

- करीब पांच-छह घंटे हुई पूछताछ सीबीआई के उपाधीक्षक सुनील एस. रावत के नेतृत्व में पांच सदस्यीय टीम ने की। बताया जा रहा है कि सीबीआई कोर्ट जयपुर से अनुमति लेने के बाद सीबीआई टीम अजमेर की हाई सिक्यूरिटी जेल पहुंची थी।

हरियाणा से किया था आंनदपाल के दोनों भाईयों को गिरफ्तार

- गौरतलब है कि एसओजी राजस्थान की टीम ने हरियाणा में स्थानीय पुलिस के सहयोग से एक मकान में किराएदार बनकर रह रहे रूपेश उर्फ विक्की और देवेंद्र उर्फ गट्टू को गिरफ्तार किया था। - एसओजी का दावा था कि पूछताछ में दोनों भाईयों ने मालासर गांव में श्रवण सिंह के यहां मकान में आनंदपाल के छिपकर ठहरने की सूचना दी थी।

एनकाउंटर के बाद से हाईसिक्यूरिटी जेल में बंद है विक्की और गट्टू

- इसके बाद एसओजी ने चुरु पुलिस के साथ मिलकर आनंदपाल का एनकाउंटर कर मार गिराया था। इसके बाद से उसके दोनों भाई विक्की और गट्टू अजमेर की हाई सिक्यूरिटी जेल में बंद है।
- आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद प्रदेश की गरमाई सियासी राजनीति और राजपूत समाज के पदाधिकारियों की मांग पर राज्य सरकार ने एनकाउंटर की जांच सीबीआई से करवाने की अनुशंसा की थी। तब केंद्र ने इसकी जांच सीबीआई को सौंपी।

एनकाउंटर के अलावा अन्य दोनों मुकदमे भी सीबीआई के पास

- एनकाउंटर के मुकदमे के अलावा सांवराद में आनंदपाल की श्रद्धांजलि सभा के दौरान हुए हिंसक उपद्रव और सुरेंद्र सिंह नाम के एक व्यक्ति की फायरिंग में मौत होने के बाद दर्ज दोनों मुकदमों की पड़ताल भी सीबीआई को सौंप दी गई थी। मुकदमों की पड़ताल सीबीआई ने इसी साल जनवरी से शुरु की थी।

एसओजी अधिकारियों समेत 100 से ज्यादा लोगों से पूछताछ

- जिसमें एसओजी के अधिकारियों, एनकाउंटर में शामिल पुलिसकर्मियों, श्रवण सिंह और उसके परिवार के सदस्यों के अलावा करीब सौ से ज्यादा लोगों से पूछताछ कर बयान दर्ज किए।

- मामले में सीबीआई ने एनकाउंटर में उपयोग में आए पुलिस और आनंदपाल के हथियार और खोल भी जब्त कर एफएसएल को भेजे है।