--Advertisement--

न्यूज हिंदी

न्यूज हिंदी

Danik Bhaskar | Mar 13, 2018, 02:13 PM IST
राजस्थान के टमकोर के निकट स्थि राजस्थान के टमकोर के निकट स्थि

मलसीसर/झुंझुनूं . पति की ओर से शनिवार रात घर के बाथरूम में प्रेमी को देख लिए जाने से घबराकर महिला ने रविवार सुबह प्रेमी के साथ पेड़ से लटक कर आत्महत्या की थी। दरअसल, खोहरी निवासी नानू देवी उर्फ अन्नु के मोबाइल से सुबह चार बजे अपने प्रेमी भंवरलाल को कॉल करने की पुष्टि हुई है, जिससे पुलिस के साथ ही दोनों के परिवार जन कयास लगा रहे हैं कि अन्नु ने भंवरलाल को बुलाया और दोनों ने एक खेत में पेड़ से लटक कर आत्महत्या कर ली। दोनों के बीच तीन-चार साल से संबंध थे। जानें पूरा मामला...

- भास्कर टीम ने खोहरी जाकर घटनाक्रम की हकीकत जानने का प्रयास किया तो यह जानकारी सामने आई। दोनों के परिवार सदमे में हैं, कोई कुछ नहीं बोलना चाहता।

- उनका कहना है, 'जो हो गया, सो हो गया, अब क्या बात करनी है।' दोनों परिवारों की ओर से कुछ न बताने से पुलिस ने दोनों परिवारों की मर्ग दर्ज किया है।

यह है मामला

- राजस्थान के टमकोर के निकट स्थित खोहरी निवासी नानू देवी उर्फ अन्नू व उसके पड़ोसी भंवरलाल ने रविवार सुबह खेत में पेड़ से फंदा लगा कर आत्महत्या कर ली थी।
- जिस रस्सी को फंदा बनाया, वह कुछ दिन पहले ही उसका पति घर के कुंड से पानी निकालने के लिए लाया था। बताया जा रहा है कि दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग था।
- अन्नू के पति महेंद्र ने भास्कर को बताया कि वह साढ़े तीन साल से जेद्दा (सऊदी अरब) में ड्राइवरी करता है। दो महीने से छुट्टी आया हुआ है। घर में कंस्ट्रक्शन का काम चल रहा है।
- बकौल महेंद्र, शनिवार रात वह और अन्नू मोबाइल पर फिल्म देख रहे थे। 10 बजे लघु शंका का कह अन्नू कमरे से निकल गई। वह भी लघु शंका के लिए गया।
- घर की चारदीवारी में ही बने बाथरूम में लाइट नहीं होने से वहां काफी अंधेरा था। अन्नू से टॉर्च जलाने को कहा तो वह बोली कि टॉर्च सही नहीं जल रही है, आप कमरे में चलो।
- महेंद्र ने बताया कि उसने अन्नू से टॉर्च लेकर जलाई और बाथरूम का अधखुला दरवाजा पूरा खोला तो अंदर पड़ोसी भंवरलाल खड़ा था। महेंद्र को देख भंवरलाल भागने लगा।
- भंवरलाल के भाई रोहताश को फोन किया लेकिन तब तक वह जा चुका था। उसे दोनों के संबंधों पर शक तो हुआ लेकिन दोनों को कहा कुछ नहीं। इसके बाद महेंद्र और अन्नू कमरे में सो गए।
- महेंद्र ने बताया कि रात करीब एक बजे नींद आ गई। साढ़े छह बजे जागा तो अन्नू घर में नहीं मिली तो भंवरलाल के साथ भाग जाने की आशंका हुई। ढूंढ़ते हुए टमकोर पहुंचा।
- रोहताश को फोन किया तो पता चला कि भंवरलाल भी घर पर नहीं है। इसी दौरान उन्हें सूचना मिली कि अन्नू और भंवरलाल घर के पास ही एक खेत में पेड़ से रस्सी का फंदा लगा कर लटके हैं।

रात को वापस घर आकर सो गया था भंवरलाल

- भंवरलाल के बड़े भाई रोहताश ने बताया कि काम पर जाने के लिए उसे 4 बजे ही जगाया था। वह तैयारी कर ही रहा था कि उसके मोबाइल की घंटी बजी।
- फोन पर बात करने के बाद काम पर नहीं जाने की कह कर वह घर से निकल गया। बाद में उसके और अन्नू के पेड़ से लटके हाेने की सूचना मिली।
- हालांकि उन्हें शक तो तभी हो गया था जब रात को महेंद्र ने फोन करके बताया कि भंवर उसके बाथरूम में घुसा हुआ है। वह महेंद्र के घर पहुंचा तो भंवर वहां नहीं था। घर आकर पता किया तो भंवरलाल घर में ही सो रहा था।

एक घंटे एक्टिव रही थी मोबाइल कॉल

- भंवरलाल की जेब में दोनों के मोबाइल मिले, जिनकी जांच से पता चला कि सुबह 4 बजे अन्नु के मोबाइल से भंवर के मोबाइल पर की गई कॉल करीब एक घंटे तक एक्टिव थी।