जयपुर

--Advertisement--

45 दिन के लिए दुल्हन बन घर आई, फिर एक दिन घर छोड़ यहां पहुंची

45 दिन के लिए दुल्हन बन घर आई, फिर एक दिन घर छोड़ यहां पहुंची

Danik Bhaskar

Jan 13, 2018, 11:30 AM IST
राजस्थान के झुंझुनूं के पास बड राजस्थान के झुंझुनूं के पास बड

झुंझुनूं/उबली बालाजी(राजस्थान). सवा लाख रुपए में दलाल के जरिए पंजाब से शादी करके लाई गई दुल्हन 48 दिन बाद दूल्हे के घर से भाग गई। लापता हुई दुल्हन को तलाशने रात में पूरा गांव निकला तो जिस दलाल ने शादी करवाई थी, उसके पास मिली। पुलिस ने पूछताछ की तो दुल्हन ने कहा कि उसे तो 45 दिन के लिए ही कहा गया था। फिलहाल ये दुल्हन उस युवक के घर पर ही है, युवक का कहना है कि जब तक दलाल उसे रुपए नहीं लौटाएगा, वह दुल्हन जाने नहीं देगा। जानें पूरा मामला...


- मामले के अनुसार राजस्थान के झुंझुनूं के पास बड़ा गांव के नाडी वाली ढाणी के विनोद कुमार सैनी अपनी शादी करवाना चाहता था। बड़ा गांव निवासी बाबूलाल सैनी व कुलोद के अनिल कुमार ने उसकी शादी करवाने के लिए एक लाख तीस हजार रुपए मांगे।
- इसके बाद 24 नवंबर 2017 को पंजाब के बठिंडा की नथाना तहसील के फूला गांव की करमजीत कौर पुत्री बलदेव जटसिख के साथ उसकी शादी दोरासर के बालाजी मंदिर में दी।
- शादी की बाकायदा नोटेरी गवाहों की मौजूदगी में बनवाई गई। विनोद कुमार ने बताया कि उसने दलाल को एक लाख 15 हजार रुपए दे दिए। इसके बाद 8 जनवरी की रात पानी की बाल्टी भरकर लाने की कहकर करमजीत घर से निकल गई।

गांव में हुई पंचायत


- दलाल के जरिए शादी करने के बाद दुल्हन के घर से भागने के मामले को लेकर पंचायत हुई।
- सूत्रों ने बताया कि ग्रामीणों ने पंचायत में दोनों पक्षों व दलाल को मौके पर बुलाया। पंचायत के सामने पीडि़त युवक ने दलाल से उसके पैसे लौटाने की मांग की।
- युवती ने युवक के साथ रहने से साफ मना कर अपने घर जाने की बात कही। दलाल ने शादी करवाने के बाद पैसे लौटाने से साफ मना कर दिया।


दुल्हन ने पुलिस को बताया कि पहले पति को तलाक दे दिया, पांच साल का बेटा है


- सब कुछ ठीक ठाक चल रहा था। आठ जनवरी की रात्रि 9 बजे पानी की बाल्टी भर लाने का कह कर करमजीत घर से निकल गई। काफी देर तक नहीं लौटी तो घरवालों ने उसे ढूंढ़ने का प्रयास किया। पूरी रात ढूंढने के बाद भी दुल्हन नहीं मिली।
- ढाणी के सभी ग्रामीणों ने अपने स्तर पर उसकी खोजबीन शुरू की। इसके बाद किसी ने उसके दलाल बाबूलाल सैनी के घर पर होने की सूचना मिली। ग्रामीण उसे दलाल के घर से पकड़ कर लाए।
- ग्रामीणों ने करमजीत से पूछा कि उसने ऐसा क्यों किया तो उसने बताया कि उसे 45 दिन रहने के लिए लाया गया है। 45 दिन पूरे होने के बाद वो तीन और वहां रुकी। पैसों के बारे में उसे कोई जानकारी नहीं है। इसके बाद विनोद ने गुढ़ागौड़जी थाने में रिपोर्ट दी। पुलिस की पूछताछ में सारा ही खुलासा हो गया।
- पुलिस को युवती ने पूछताछ में बताया कि उसकी शादी पंजाब में हुई है और उसके पांच साल का बेटा भी है। वह अपने पति को तलाक दे चुकी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस ने की जांच और लिए बयान


- गुढ़ागौड़जी पुलिस को मामले की रिपोर्ट मिलने पर बालाजी चौकी के हैड कांस्टेबल हरिसिंह ने नाडा की ढाणी में युवक के घर आकर मामले की जांच की और बयान लिए। हैड कांस्टेबल हरिसिंह ने बताया कि युवक व युवती के बयान लिए गए हैं और उनके दस्तावेजों की जांच की गई है।

- मामले की पूरी जांच होने के बाद ही पूरी सच्चाई सामने आएगी। बड़ागांव सरपंच सत्य कुमार ने बताया कि गांव में शादी के नाम पर रुपए देकर दूसरे प्रदेश से युवतियां लाई जा रही हैं। दलाल ग्रामीणों को गुमराह कर फर्जी शादी करवा रहे हैं। थोड़े दिन रहने के बाद युवतियां भाग जाती हैं। दलालों पर पुलिस कठोर कार्रवाई करे।

Click to listen..