--Advertisement--

भावी स्कूल व्याख्याताओं ने मुर्गा बन कर परिणाम संशोधित करने की मांग की

भावी स्कूल व्याख्याताओं ने मुर्गा बन कर परिणाम संशोधित करने की मांग की

Danik Bhaskar | Mar 08, 2018, 04:58 PM IST

अजमेर. राजस्थान लोक सेवा आयोग के सामने पूर्व में पकौड़े तल कर प्रदर्शन करने का नतीजा अब तक नहीं निकलने से खफा बेरोजगारों ने गुरुवार को आयोग के सामने मुर्गा बन कर प्रदर्शन किया और अपनी मांगों को लेकर सरकार व आयोग का ध्यान आकर्षित करने का प्रयास किया। ये अभ्यर्थी स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा 2015 के रीशफल परिणाम व वेटिंग लिस्ट जारी करने की मांग कर रहे हैं।


- राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के रविकांत बेनीवाल की अगुवाई में बेरोजगारों का दल यह प्रदर्शन कर रहा था।

- अभ्यर्थी स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा 2015 का संशोधित परिणाम व वेटिंग लिस्ट जारी करने की मांग कर रहा है।

- पूर्व में 14 फरवरी को इन अभ्यर्थियों ने आयोग के सामने पकौड़े तल कर प्रदर्शन किया था। लेकिन आयोग द्वारा आश्वासन दिए जाने के बाद भी अब तक संशोधित परिणाम घोषित नहीं किया गया है।

- प्रदर्शन के लिए जयपुर, जोधपुर, सीकर, नागौर, सवाई माधोपुर, कोटा, भीलवाड़ा, बांसवाड़ा समेत प्रदेश के विभिन्न जिलों से अभ्यर्थी आयोग पहुंचे।

- प्रदर्शनकारियों ने मुर्गा बन कर अपनी मांग को पूरा करने की मांग की।

ये है मांगें


- स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा 2015 का मुख्य परिणाम जारी हुए करीब 8 महीने हो चुके हैं। इस भर्ती में अभी 1500 पद रिक्त पड़े हैं।
- अभ्यर्थियों का कहना है कि इस भर्ती में आयोग को 450 अभ्यर्थियों के विस्तृत आवेदन पत्र प्राप्त नहीं हुए हैं। इनको आयोग ने अगस्त महीने में निरस्त घोषित कर दिया था। इनकी जगह आयोग रीशफल परिणाम जारी कर नए अभ्यर्थियों को मौका दे।
- इस भर्ती में नवचयनित 1050 व्याख्याताओं ने पद ग्रहण नहीं किए हैं। इनको शिक्षा निदेशालय ने पूर्ण रूप से निरस्त कर दिया है और आयोग से नए अभ्यर्थियों की मांग की है। 4 महीने पूर्व यह मांग निदेशालय से आ चुकी है। निदेशालय दो बार रिमाइंडर भी कर चुका है। ये 1050 पद आयोग को वेटिंग लिस्ट से भरने हैं।

फोटो- आरिफ कुरैशी