जयपुर

--Advertisement--

मर्डर केस की फाइल मजबूत करने की एवज में ली रिश्वत, अपर लोक अभियोजक गिरफ्तार

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की देहात टीम ने एक अपर लोक अभियोजक (एपीपी) को बुधवार को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 06:36 PM IST
government advocate arrested by acb taking bribe at parbatsar nagaur

नागौर. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की देहात टीम ने एक अपर लोक अभियोजक (एपीपी) को बुधवार को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने एक मर्डर केस में फाइल मजबूत करने की एवज में 8000 रुपए की रिश्वत ली थी। यह कार्रवाई जयपुर देहात टीम के प्रभारी एडिशनल एसपी नरोत्तम वर्मा के नेतृत्व में गठित पुलिस टीम ने की।

रिश्वत के खेल का यह है मामला

- एसीबी के मुताबिक गिरफ्तार आरोपी कन्हैयालाल है। उसके खिलाफ नागौर निवासी एक व्यक्ति ने एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसमें बताय कि उसके पिता की हत्या कर दी गई थी।

- यह मामला परबतसर एडीजे कोर्ट में विचाराधीन है। वहां पदस्थापित अपर लोक अभियोजक (एपीपी) कन्हैयालाल ने परिवादी से संपर्क किया और फिर हत्या के केस की फाइल को मजबूत करने और केस में गवाहों के सही बयान करवाने की एवज में 8000 रुपए की रिश्वत मांगी।

अमूमन 20 हजार रुपए लगते है, यहां सिर्फ आठ हजार रुपए रिश्वत

- परिवादी के मुताबिक एपीपी ने उसे यह भी कहा कि अमूमन ऐसे मामलों में 20 हजार रुपए का खर्च आता है। शिकायत का सत्यापन करने के बाद एसीबी ने बुधवार को ट्रेप रचा।

- परिवादी रिश्वत की रकम लेकर परबतसर एडीजे कोर्ट परिसर में पहुंचा। जहां उसने एपीपी कन्हैयालाल को 8000 रुपए दे दिए। तब ईशारा मिलने पर एसीबी टीम ने आरोपी कन्हैयालाल को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

X
government advocate arrested by acb taking bribe at parbatsar nagaur
Click to listen..