Hindi News »Rajasthan News »Jaipur News» Hubby Is The Accused, Accepts Killing Two Wives

2 पत्नियों को जेवर दिलाने के बहाने ले गया, रास्ते में कार में जिंदा जला दिया

2 पत्नियों को जेवर दिलाने के बहाने ले गया, रास्ते में कार में जिंदा जला दिया

Aadi Dev Bharadwaj | Last Modified - Dec 20, 2017, 05:44 PM IST


जालोर/ चितलवाना। एक पति अपनी दो पत्नियों को जेवर दिलाने के लिए घर से निकला। तीनों कार में थे और दोनों पत्नियां पीछे की सीट पर बैठी थीं। घर से निकलते ही उनमें झगड़ा शुरू हो गया। रास्ते में कार अनियंत्रित होती रही। फिर पति ने दोनों को आग लगा कर मारने की कोशिश की। इस पर एक महिला कार से निकल कर भागी तो पति उसकी बांह पकड़ कर वापस ले आया। जानिए फिर क्या हुआ ....

- चितलवाना पुलिस ने पूछताछ में जुर्म स्वीकारने पर आरोपी पति को अरेस्ट कर लिया है। थाना प्रभारी तेजूसिंह ने बताया कि चितलवाना निवासी दीपाराम प्रजापत के दो पत्नियां मालू (27) तथा दरिया (22) हैं। वह रोज-रोज के गृहक्लेश से तंग था। इससे छुटकारा पाना चाहता था। इसलिए दोनों की हत्या कर दी। वह पत्नियों को जेवर दिलाने के बहाने लेकर निकला। रास्ते में उनमें झगड़ा शुरू हो गया। उसने उनको जलाने की कोशिश की। रास्ते में कार रुकते ही एक महिला उसमें से निकल कर भागी। वहां खेतों में खड़ी एक महिला से उसने कहा, मेरा पति मुझे मार डालेगा। इस पर मैंने कहा कि तुम तो दो हो वहल अकेला, कैसे मार डालेगा। इस पर महिला ने कहा, हमें जला कर मार देगा। तब तक दीपाराम वहां आया और महिला को पकड़ केर कार में ले गया। इस महिला ने पुलिस को इस बारे में बताया।

ग्रामीणों ने देखी जलती कार

- कार वहां से चली गई। थोड़ी देर में चितलवानाथाना क्षेत्र के सेसावा गांव से एक किलोमीटर दूर लोगों ने कार जलती देखी। इस पर ग्रामीण मदद को आए तथा पानी को टैंकर मंगवाया। ग्रामीणों ने पुलिस को बुलाया तथा आग बुझाई। तब तक उसमें बैठी दोनों महिलाएं जल कर भुन गईं थीं। उनके शव घंटों बाद कार से निकाले गए।

दीपाराम ने यह कहानी बताई थी

- दीपाराम का कहना था कि रास्ते में अचानक कार बंद होने पर वह देखने के लिए नीचे उतरा। इस दौरान अचानक कार में आग लग गई। आग लगने के दौरान उसने फाटक खोल दोनों को बाहर निकालने का प्रयास किया, लेकिन फाटक पॉवर लॉक हो गए। कुछ देर बाद मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने टैंकर से पानी छिड़क कर आग बुझाई, लेकिन तब तक दोनों महिलाओं की मौत हो गई। मृतका दोनों महिलाओं के परिजन देर रात को मौके पर पहुंचे। दीपाराम ने जो कुछ बताया उस पर पुलिस को यकीन नहीं हो रहा था।

ऐसे मारा
- दीपा राम ने पुलिस को बताया कि सुनसान जगह देखकर गाड़ी में आग लगाने की कोशिश की तो एक पत्नी कार से उतरकर भागने लगी। इस पर मैंने, उसे पकड़कर वापस लाकर कार में बिठा दिया। बोतल से दोनों पर पेट्रोल छिड़कर आग लगा दी व खुद कार से बाहर आ गया।

दो दिन पहले ही आए थे

- पालनपुर से गांव आए दीपाराम प्रजापत ने पुलिस को बताया कि बाड़मेर के अरड़ियाली गांव में सुनार के यहां जा रहा था, दोनों को साथ लेकर जेवरात बनाने। गांव से निकलने के बाद करीब दो किमी दूर ही पहले कार पत्थरों से टकराई, अपशकुन मान लौटा, घर से 500 मीटर पहले कार बंद हुई। वह चैक करने नीचे उतरा तो आग लग गई और दोनों पत्नियां जिंदा जल गईं। बचाने का प्रयास किया, लेकिन कार ऑटो लॉक हो गई।

मजदूरी करता है

- सेसावा निवासी दीपाराम प्रजापत पालनपुर में मकान निर्माण का काम करता है। उसने पहली शादी बाड़मेर जिले के गुड़ामालानी के मालपुरा निवासी मालू (27) के साथ की, जिसके 7 साल का पुत्र दिनेश है। मालू मंदबुद्धि होने के कारण दीपाराम ने दूसरी शादी बाड़मेर के सिवाणा में दौली उर्फ दरिया देवी (22) के साथ की थी जिसके एक ढाई साल का लड़का कैलाश और छह-सात माह की लड़की सरिता है, जो घटना के समय साथ में नहीं थे।आगे की स्लाइड्स में देखिए और फोटोज

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jaipur News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 2 ptniyon ko jevr dilaane ke bahaane le gaya, raaste mein kar mein jindaa jlaa diyaa
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Jaipur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×