Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» In Rajasthan, In A Desire To Meet God, A Family Committed Suicide To Had Poisoned Laddoo

राजस्थान में भगवान से मिलने की चाह में एक परिवार ने जहरीले लड्‌डू खाकर की थी सामूहिक खुदकुशी, पांच की हुई थी मौत

5 साल पहले भगवान से मिलने की चाह में एक परिवार ने जहरीले लड्‌डू खाकर खुदकुशी की थी। इसका वीडियो भी बनाया था।

Vishnu Sharma | Last Modified - Jul 02, 2018, 06:22 PM IST

  • राजस्थान में भगवान से मिलने की चाह में एक परिवार ने जहरीले लड्‌डू खाकर की थी सामूहिक खुदकुशी, पांच की हुई थी मौत
    +2और स्लाइड देखें
    मौत से पहले बनाए गए वीडियो में यूं दिखा था परिवार

    - भगवान शिव से मिलने की चाह में आठ सदस्यीय परिवार ने खाए थे जहरीले लड्‌डू

    जयपुर. दिल्ली के बुराड़ी में रविवार को एक ही परिवार के 11 सदस्यों की मौत के कारण अभी भी पुलिस के लिए पहेली बने हुए हैं। हालांकि, घर में कुछ नोट्स मिलने के बाद पुलिस आस्था और अंधविश्वास के एंगल से भी मामले की जांच कर रही है। इस घटना ने राजस्थान के सवाई माधोपुर की गंगापुर सिटी में एक परिवार की सामूहिक आत्महत्या के मामले की याद दिला दी है। 26 मार्च 2013 की रात यहां स्थित गंगापुर सिटी में एक फोटोग्राफर कंचन सिंह के 8 सदस्यीय परिवार ने भगवान शिव से मिलने की चाह में जहरीले लड्‌डू खा लिए थे। इनमें 5 सदस्यों की मौत हो गई थी। जबकि 3 सदस्यों की जान बच गई थी।

    सामूहिक खुदकुशी का बनाया था वीडियो:इस परिवार ने सामूहिक खुदकुशी का वीडियो भी बनाया था। इसमें कंचन सिंह हर शख्स से पूछता हुआ नजर आ रहा था कि वो क्यों मरना चाहता है और मरने के बारे में उसके विचार क्या हैं। तब सभी ने भगवान से मिलने का जिक्र करते हुए मरने की बात कही। यहां तक की कंचन की मासूम छोटी बेटी ने भी शिव के वाहन नंदी से मिलने की बात कही। ये वीडियो ही 5 लोगों की मौत का सबूत और गवाह दोनों है। कंचन पेशे से फोटोग्राफर था। उसका पूरा परिवार आस्था, तंत्र-मंत्र में डूबा था। मनोरंजन के लिए भी वह सिर्फ धार्मिक सीरियल ही देखा करते थे। भगवान से मिलने के अपने जुनून में कंचन ने पूरे परिवार को शामिल कर लिया था। इनमें उसका भाई भी शामिल था, जो कि पेशे से इंजीनियर था।

    हवन कर एक साथ आठ सदस्यों ने खाए जहरीले लड्डू:वीडियो बनाने के बाद देर कंचन सिंह पूरे परिवार के साथ एक साथ पूजा की वेदी पर आकर बैठ गया। कंचन सिंह ने सबको अपने हाथों सायनाइड से सना लड्डू दिया। अपनी बुजुर्ग मां को ढोक दी। इसके बाद एक से तीन तक गिनती बोली और फिर परिवार के आठ सदस्यों ने एक साथ एक झटके में जहरीले लड्डू खा लिए। किसी को मौत का खौफ नहीं था। कुछ मिनटों में फोटोग्राफर कंचन सिंह, उसकी पत्नी नीलम, इंजीनियर भाई दीप सिंह, बेटा प्रद्युम्न और बेटी रिनी की मौत हो गई।

    भांजी ने दिखाया हौंसला और पड़ोसियों को दी जानकारी:परिवार को दम तोड़ता देख कंचन की भांजी रश्मि ने लड्‌डू थूंक दिया। उसकी भी तबीयत बिगड़ चुकी थी। लेकिन वह दौड़ते हुए पड़ोसियों के पास पहुंची। आपबीती बताई तब पड़ोसी दौड़कर कंचन सिंह के घर पहुंचे। तब तक पांच सदस्य दम तोड़ चुके थे। लेकिन जिंदा बचीं कंचन सिंह की बुजुर्ग मां, उसके भतीजे और भांजी को तत्काल अस्पताल पहुंचाया। जहां उनकी जान बच गई।

    भगवान शिव का सीरियल देखा, फिर की उनसे मिलने की बात:वीडियो रिकॉर्डिंग के अनुसार परिवार के सभी सदस्यों ने सबसे पहले भगवान शिव का टीवी पर सीरियल देखा। फिर सभी एक कमरे में बैठ गए। सभी एक-दूसरे से पूछ रहे थे कि उनकी मौत होने के बाद स्वर्ग में जाने पर कैसा लगेगा। कंचन सिंह ने कहा कि भगवान शिव, दुर्गा माता व अन्य देवी-देवताओं से हमारी रोजाना बात होती है। मैं और मेरा भाई अब तक भगवान भोलेनाथ का 500 से अधिक बार खून से अभिषेक कर चुके हैं। 3100 से अधिक बार खुद के खून से तिलक किया है। घटना के दिन भी परिवार के सभी सदस्यों ने पहले तो खुद के खून से भोलेनाथ का अभिषेक किया और इसके बाद बच्चों ने अपने खून से तिलक लगाया।


  • राजस्थान में भगवान से मिलने की चाह में एक परिवार ने जहरीले लड्‌डू खाकर की थी सामूहिक खुदकुशी, पांच की हुई थी मौत
    +2और स्लाइड देखें
    मौत से पहले देर रात किया हवन फिर खाए लडडू
  • राजस्थान में भगवान से मिलने की चाह में एक परिवार ने जहरीले लड्‌डू खाकर की थी सामूहिक खुदकुशी, पांच की हुई थी मौत
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×