जयपुर

--Advertisement--

शहर में आज : रचनात्मकता का अद्भुत उदाहरण है 'आला अफसर'

कल्चरल सोसायटी ऑफ राजस्थान इस वर्ष अपनी स्थापना का गोल्डन जुबली सेलिब्रेशन मना रही है।

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 10:35 AM IST
नाटक आला अफसर का एक सीन। नाटक आला अफसर का एक सीन।

कार्यक्रम : थियेटर वर्कशॉप कोलाज ऑफ किलकारी
समय : शाम 7 बजे
स्थान: रविंद्र मंच
प्रवेश : निशुल्क
फोन : 0141 261 9061


रचनात्मकता का अद्भुत उदाहरण है आला अफसर
- हिन्दी में व्यापक लोकप्रियता और स्तरीय रचनात्मकता का अद्भुत उदाहरण है मुद्राराक्षस का नाटक आला अफ़सर। इसके अन्य भाषाओं में अनुवाद भी हुए हैं। इजना ही नहीं विदेशी पुस्तकों में भी इस नाटक की चर्चा हुई है।

- सरकार बदलने पर भी शासकों का न बदलना, नौकरशाही और राजनीतिज्ञों के रिश्ते को इसके गानों के जरिए बताया गया है।

- नाटक में नौटंकी के मूल छंदों को बनाए रखते हुए हिन्दीं की वर्तमान कविता की क्षमताओं का संवेदनशील प्रयोग हुआ है।

मुद्राराक्षस : एक परिचय

- जन्म: 21 जून, 1933, बेहटा गांव, लखनऊ।

- 1955 से 1960 तक कलकत्ता में पत्रकारिता।
- 1963 से आकाशवाणी दिल्ली में नौकरी।
- 1976 में इस्तीफा देकर लखनऊ में रहते हुए स्वतंत्र लेखन। इस दौरान उन्होंने अनेक नाटकों का निर्देशन किया। उनकी अन्य ललित कलाओं में गहरी रुचि रही। अर्थशास्त्र, समाजशास्त्र और राजनीति के विषयों के विख्यात टिप्पणीकार रहे। समाजिक-राजनीतिक आन्दोलनों में व्यापक भागीदारी भी की।

X
नाटक आला अफसर का एक सीन।नाटक आला अफसर का एक सीन।
Click to listen..