--Advertisement--

साहित्य उत्सव में फैशन और ग्लैमर का तड़का

साहित्य उत्सव में फैशन और ग्लैमर का तड़का

Danik Bhaskar | Jan 27, 2018, 02:48 PM IST
सेल्फी का दिख रहा क्रेज। सेल्फी का दिख रहा क्रेज।

जयपुर। भाषा की न्यूनतम इकाई वाक्य है और वाक्य की न्यूनतम इकाई शब्द है। यही बूंद समानी शब्द से साहित्य का सागर रचा जाता है। शब्दों की इस महिमा को देखने सुनने को लाखों लोग जयपुर लिटरेचल फेस्टिवल में जुटे हैं। इन शब्दों से इतर भी इस मेले में बहुत कुछ है। इस साहित्य मेले में फैशन और ग्लैमर का तड़का भी लगा है। आइए तस्वीरों में देखते हैं साहित्य उत्सव के तीसरे दिन क्या रहा खास...

- जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल पहुंच रहे लोगों में सेल्फी लेने का क्रेज जमकर दिखाई दे रहा है।

- यहां बने सेल्फी प्वॉइंट पर यंगस्टर्स खूब सेल्फी क्लिक कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ अलग-अलग सेशन भी इंज्वॉय कर रहे हैं।

- इसके साथ यहां बने फूड प्वॉइंट भी लोगों के टेस्ट बड्स का नया स्वाद दे रहे हैं।

नहीं आएंगे प्रसून जोशी

- सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन (सेंसर बोर्ड) के अध्यक्ष प्रसून जोशी इस साल जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल (JLF) का हिस्सा नहीं बनेंगे। कई दिनों से कयास चल रहे थे कि करणी सेना के विरोध को देखते हुए प्रसून जोशी का सेशन कैंसिल किया जा सकता है। प्रसून ने खुद लिटरेचर फेस्टिवल में शिरकत न करने की पुष्टि की। उन्होंने यह भी कहा कि फिल्म को सर्टिफिकेट सुझावों के आधार पर ही लिया गया है।


शामिल न हो पाने का दुख रहेगा


- प्रसून ने कहा, “मैं इस बार Jlf में हिस्सा नहीं ले पा रहा हूं। मुझे इस साल साहित्य और कविता प्रेमियों के साथ Jlf में चर्चा और विचार-विमर्श न कर पाने का दुख रहेगा, पर मैं नहीं चाहता कि मेरे कारण साहित्य प्रेमियों, आयोजकों और वहां आए अन्य लेखकों को कोई भी असुविधा हो और आयोजन अपनी मूल भावना से भटक जाए।"

फोटोज- मनोज श्रेष्ठ